प्रयागराज से पीएम ने कहा: कांग्रेस का इतिहास जितना काला है, वर्तमान उतना ही कलंकित

PM said from Prayagraj: The history of the Congress is as black, Current equally tarnished
प्रयागराज से पीएम ने कहा: कांग्रेस का इतिहास जितना काला है, वर्तमान उतना ही कलंकित

प्रयागराज। प्रयागराज नामकरण के बाद पहली बार यहां आए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कुंभ से जुड़े कार्यों का जायजा एवं लोकार्पण किया। पीएम मोदी ने प्रयागराज में संगम तट पर वैदिक मंत्रोच्चार के बीच विश्व कल्याण, देश में शांति और निर्विघ्न कुम्भ के लिए पूजा की। पीएम ने कुंभ में कंट्रोल एंड कमांड सेन्टर का उद्घाटन भी किया। इस दौरान उन्होंने यहां एक जनसभा को भी संबोधित किया।
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि तीर्थराज के जन जन को मेरा सादर प्रणाम। उन्होंने कहा कि यहां आने से उन्हें ऊर्जा मिलती है। उन्होंने कहा कि प्रयागराज के विकास के लिए परियोजनाओं का उद्घाटन किया गया है। इससे प्रयागराज आने के लिए कनेक्टिविटी बढ़ेगी। यहां की सड़कों की स्थिति में सुधार हुआ है।
पीएम मोदी ने आगे कहा कि प्रयागराज तप, तपस्या और संस्कार की धरती है। अर्धकुंभ से पहले देश वासियों को खुशखबरी देना चाहता हूं। सभी श्रद्धालु अक्षयवट व सरस्वती कूप के दर्शन कर सकेंगे। अक्षयवट जीवन में जीवट बने रहने की प्रेरणा देता है।
पीएम मोदी ने संबोधन के दौरान कहा कि अर्ध कुंभ आने के लिए दुनिया को न्योता दिया। अब मैं भी उत्तर प्रदेश वाला हूं। गंगा के घाटों को सुंदर बनाया गया है। कुंभ के दौरान सफाई रखने के लिए आधुनिक तकनीक का इस्तेमाल किए जा रहे हैं। मां गंगा को स्वच्छ और अविरल रखने पर जोर दिया जा रहा है। उन्होंने प्रयागराज की तारीफ करते हुए कहा कि प्रयागराज को न्याय का मंदिर भी कहा जाता है।
पीएम मोदी ने कांग्रेस पर हमला बोलते हुए कहा कि कांग्रेस ने संवैधानिक संस्थाओं को बर्बाद कर दिया। कांग्रेस के सर्वोच्य नेताओं ने जनमत का अपमान करने का कार्य किया। कांग्रेस ने बल और छल के दम पर संवैधानिक संस्थाओं को बर्बाद करने का काम किया। कांग्रेस स्वार्थ के आगे न देश का हित देखती है, न लोकतंत्र का। उन्होंने न्यायपालिका को कमजोर किया, उसे अपने हिसाब से मोड़ा।
कांग्रेस चीफ जस्टिस के खिलाफ महाभियोग लाई। जजों को डराना, धमकाना कांग्रेस की पुरानी सोच का हिस्सा है। जस्टिस खन्ना की वरिष्ठता नजरंदाज की गई है। हमारे देश में न्यायपालिका संविधान को सर्वोच्च रखती रही है, लेकिन इस दल के पास इसे भटकाने, लटकाने और धमकाने के कई उदाहरण हैं। इनके एक नेता ने एक जज से कहा था कि क्या वह नहीं चाहते कि उनकी पत्नी करवा चौथ मनाएं। देश की संवैधानिक संस्थाओं को एक पार्टी के आगे हाथ बांधकर खड़ा रहने के लिए मजबूर करने की कोशिश की जा रही है। देश पर सबसे ज्यादा समय तक शासन करने वाली पार्टी ने हमेशा ही खुद को हर कानून, न्याय-पालिका, संस्था और यहां तक कि देश से भी ऊपर माना है। देश की हर उस संस्था को इस पार्टी ने बर्बाद कर दिया जो उसकी मर्जी से नहीं चली, उसके इशारों पर काम करने, झुकने को तैयार नहीं हुई। कांग्रेस का इतिहास जितना काला है, वर्तमान उतना ही कलंकित है।
वहीं, प्रयागराज के संगम में गंगा पूजन और कुंभ की कुशलता के लिए कामना करके लौटते समय प्रधानमंत्री को सपाइयों ने काला झंडा दिखाया बैरिकेडिंग को पारकर एक युवक अचानक गाड़ी के सामने आ गया उसने काला झंडा लहरा दिया पुलिस वालों ने उसे दबोच कर पीछे फेंका। इसी बीच किसी ने पुआल के ढेर में माचिस की तीली फेंक दी, जिससे आग लग गई और अफरातफरी की स्थिति बन गई। फायर ब्रिगेड के लोगों ने पहुंचकर थोड़ी देर में आग पर काबू पाया।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »