कुरुक्षेत्र में कांग्रेस की अपने प्रति ‘पाक’ मोहब्‍बत का ब्‍योरा पेश किया पीएम ने

कुरुक्षेत्र। महाभारत की धरती कुरुक्षेत्र पहुंचे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी के ‘दुर्योधन’ वाले पर बयान पर जोरदार पलटवार किया।
उन्‍होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी और उसके नेता प्‍यार का नकाब पहनकर मुझे गालियां देते हैं। इन नेताओं ने मुझे रावण, सांप, बिच्छू, गंदा आदमी, जहर बोने वाला, मौत का सौदागर, हिटलर, मुसोलिनी कहकर गालियां दीं। यही नहीं, इन नेताओं ने मेरी मां को गाली दी और पूछा कि मेरे पिता कौन हैं। उन्‍होंने कहा कि ये सारी गालियां पीएम बनने के बाद मुझे दी गईं, मुझ पर एकतरफा जुल्‍म हो रहा है।

कुरुक्षेत्र में चुनावी जनसभा को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा, ‘मैं कांग्रेस और उसके साथियों को मनमानी नहीं करने देता हूं, उनके भ्रष्टाचार को रोकता हूं, उनके वंशवाद की बात करता हूं इसलिए ये लोग बार-बार प्रेम का नकाब पहनकर मुझे गालियां देते रहते हैं। इन्होंने भारत की संस्कृति को बदनाम करने का अभियान छेड़ा हुआ था।’ ‘मुझे रेबीज बीमारी से पीड़ित बंदर बोला गया’
उन्‍होंने कहा, ‘मेरे प्रधानमंत्री बनने के बाद मेरे ऊपर विपक्ष ने कैसी प्रेमवर्षा की है… मुझे मोस्ट स्टुपिड पीएम बताया गया, मुझे कहा गया जवानों के खून का दलाल है, मेरे लिए गद्दाफी, मुसोलिनी, हिटलर जैसे शब्द बोले गए। इनके बड़े-बड़े नेताओं ने मुझे मानसिक तौर पर बीमार बताया, नीच आदमी बताया, यहां तक कि यह भी पूछा गया कि मेरे पिता कौन थे। मेरे दादा कौन थे। मुझे ये सारे उपहार प्रधानमंत्री बनने के बाद आज भी दिए जा रहे हैं।’
पीएम मोदी ने कहा, ‘इनके एक नेता ने मुझे हिटलर तो दूसरे ने मुझे बदतमीज नालायक बेटा कहा। मुझे रेबीज की बीमारी से पीड़ित बंदर, चूहा और लहू पुरुष बोला गया। कांग्रेस वालों ने मुझे रावण, सांप, बिच्छू, गंदा आदमी और जहर बोने वाला तक बोला। कांग्रेस के एक नेता ने मुझे गंदी नाली का कीड़ा कहा तो दूसरा मुझे गंगू तेली कहने आ गया। इनके एक नेता ने मुझे पागल कुत्ता कहा तो दूसरे नेता ने भस्मासुर की उपाधि दे दी।’
प्रधानमंत्री ने कहा, ‘इनके एक और मंत्री ने मुझे वायरस कहा तो दूसरे ने दाऊद इब्राहिम का दर्जा दे दिया। कांग्रेस के नेता जिसके सामने नतमस्तक होते हैं, उन्होंने भी मुझे मौत का सौदागर कहा। ये इनका प्रेम करने का तरीका है। यह कांग्रेस की प्रेम की डिक्शनरी के शब्द हैं। कांग्रेस की यह डिक्शनरी इनके बच्चों के हाथ न लग जाए।’ उन्‍होंने कहा क‍ि पानीपत के पास समझौता एक्सप्रेस में ब्लास्ट हुआ था, तो कांग्रेस ने हिन्दू आतंकवाद का झूठ गढ़ने के लिए निर्दोष लोगों को सालों तक जेल में रखा लेकिन कांग्रेस के इस षड्यंत्र का पर्दाफाश हो गया।’
कांग्रेस सिर्फ एक ही परिवार की चिंता में डूबी रहती है
उन्‍होंने कहा, ‘देश आजाद होने से लेकर अब तक हिंदुस्तान के किसानों के हक का पानी पाकिस्तान जा रहा है। लेकिन दशकों तक कांग्रेस के लोग इस पर एक शब्द नहीं बोले। यह चौकीदार भारत के हक का एक-एक बूंद पानी देश के किसान तक पहुंचाने के लिए संकल्प करके बैठा है। कांग्रेस सिर्फ एक ही परिवार की चिंता में डूबी रहती है इसलिए भारत के हितों की रक्षा करने में कभी गंभीरता नहीं दिखाई गई।’
पीएम मोदी ने कहा, ‘बालाकोट के बाद हमारे एक वीर सपूत को पाकिस्तान ने कब्जे में ले लिया था। 48 घंटे के भीतर पाकिस्तान को उसे छोड़ना पड़ा था। वे वाघा बॉर्डर तक छोड़ने आए। तब कांग्रेस और उसके दरबारियों ने पाकिस्तानी प्रधानमंत्री की तारीफ में कसीदे कढ़ना शुरू कर दिया। उनके लिए नोबेल पुरस्कार तक की मांग कर दी।’
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »