Vibrant Gujarat समिट में पीएम मोदी बोले- भारत में निवेश करने का यही सही वक्त है

Vibrant Gujarat समिट 2019: PM मोदी बोले- हमने वर्ल्ड बैंक की डूइंग बिजनेस रिपोर्ट की ग्लोबल रैंकिंग में लगाई छलांग

अहमदाबाद। Vibrant Gujarat समिट के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने निवेशकों को आमंत्रित करते हुए कहा है कि भारत में निवेश करने का यही सही वक्त है। भारत अभूतपूर्व कारोबार के लिए तैयार है। हमने विश्व बैंक की ease of doing business में 75 पायदान की छलांग लगायी है। इस समय यहां कारोबार शुरू करने के लिए पर्याप्त ढांचागत संरचना का विकास हो चुका है और उनके निवेश की सुरक्षा के लिए भी तंत्र विकसित हो गया है। साथ ही कर सुधार के क्षेत्र में मजबूत कदम उठाया जा चुका है।

Vibrant Gujarat समिट के उद्घाटन सत्र में शुक्रवार को पीएम मोदी ने कहा कि हम सुधार और नियमों को सरल करने की गति जारी रखेंगे। अगले साल तक कारोबार सुगमता में शीर्ष 50 देशों में शामिल होने का भारत का लक्ष्य है।

पीएम मोदी ने कहा, ‘मेरी सरकार में जीडीपी वृद्धि की सालाना औसत दर 7.3 प्रतिशत रही है, जो 1991 के बाद से सर्वाधिक है। 1991 के बाद से 4.3 फीसदी की औसत मुद्रास्फीति दर भी सबसे कम है। इतनी कम औसत मुद्रास्फीति दर 1991 के बाद किसी सरकार के दौरान नहीं रही।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को यहां वाइब्रेंट गुजरात वैश्विक सम्मेलन के नौवें संस्करण के उद्घाटन के समय संयुक्त राष्ट्र की एजेंसी अंकटाड की एक रिपोर्ट का जिक्र करते हुए कहा कि इस समय भारत एफडीआई प्राप्त करने में दुनिया के शीर्ष 10 स्थानों में शामिल है।

विश्व बैंक की ईज आफ डूइंग बिजनेस रिपोर्ट के मुताबिक भारत ने पिछले साल 65 पायदान की छलांग लगाई है। उन्होंने कहा हम इससे ही संतुष्ट नहीं हैं। हमने अपने अधिकारियों से कहा है कि इस मापदंड में भारत को शीर्ष 50 देशों की सूची में लायें।

उन्होंने कहा कि करोबार सस्ता हो सके, इसके लिए यहां जटिल कर कानून को आसान किया जा रहा है। पिछले दो साल में कारपोरेट टैक्स की दर 30 फीसदी से घटा कर 25 फीसदी की जा चुकी है। अप्रत्यक्ष कर के क्षेत्र में सबसे बडा कर सुधार, वस्तु एवं सेवा कर प्रणाली, लागू हो चुकी है। इस क्षेत्र के कानूनों का कंसोलिडेशन एवं सिंपलीफिकेशन हो चुका है।

उल्लेखनीय है कि इस सम्मेलन की शुरुआत मोदी ने वर्ष 2003 में बतौर राज्य का मुख्यमंत्री रहते हुए की थी।
-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »