पीएम मोदी ने ‘चौकीदारों’ से कहा, हर गाली को गहना बनाकर आगे बढ़ें

नई दिल्‍ली। देशभर में ‘चौकीदार चोर है’ बनाम ‘मैं भी चौकीदार’ की जंग के बीच पीएम नरेंद्र मोदी ने बुधवार को लाखों चौकीदारों को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने दो-तीन चौकीदारों से बात भी की। पीएम मोदी ने चौकीदार को चोर कहे जाने पर कहा कि हर गाली को गहना बना लेना चाहिए और आगे बढ़ते रहना चाहिए। विपक्ष पर निशाना साधते हुए पीएम मोदी ने कहा कि चौकीदारों को गाली देने वालों को यह देश कभी नहीं भूलेगा।
पीएम मोदी ने सबसे पहले देशवासियों को होली की शुभकामनाएं दीं। होली के त्योहार को चौकीदारों से जोड़ते हुए पीएम मोदी ने कहा कि आपकी मुस्तैदी ही बाकी लोगों की खुशियों का कारण बन जाती है। उन्होंने कहा, ‘साथियो, मैं सच्चे दिल से आप सबको सल्यूट करता हूं। हर मौसम, हर परिस्थिति में आप अपने काम में जुटे रहते हैं। आपके घर में चाहे जैसा भी कार्यक्रम हो, आप हमेशा अपनी ड्यूटी निभाते हैं। आप सभी का दायित्व ऐसा है कि ड्यूटी ही त्योहार बन जाती है। आपकी वजह से ही समाज खुद को सुरक्षित महसूस करता है।’
‘हर जगह हो रही है चौकीदार की चर्चा’
सोशल मीडिया पर चौकीदार को लेकर छिड़ी चर्चा का जिक्र करते हुए पीएम मोदी ने कहा, ‘टीवी हो या ट्विटर हो, हर जगह आप ही की चर्चा है। दुनिया की अधिकतर भाषाओं ने भी इस शब्द को समझ लिया है या यूं कहें स्वाकीर कर लिया है। आज पूरा देश चौकीदार होने की शपथ ले रहा है। लोग अपनी जिम्मेदारियों को निभाने की शपथ ले रहे हैं।’
यूपी से आया सवाल- चौकीदारों को शक की नजर से देखा जा रहा है
यूपी के फर्रुखाबाद से रेनू ने पीएम मोदी से सवाल पूछा, ‘सर मेरा सवाल है कि हम गांव के गरीब परिवार से आते हैं। इज्जत ही हमारी पूंजी है लेकिन राजनीति के चलते हमें चोर कहा गया। जहां हम काम करते हैं, वहां हमें शक की नजर से देखा जा रहा है। क्या देश की सीमा पर तैनात जवान भी चोर हैं?’
इस सवाल के जवाब में पीएम मोदी ने कहा, ‘मैं आपकी भावनाओं का सम्मान करता हूं। मैं आप सबसे माफी मांगता हूं क्योंकि कुछ लोगों ने अपने निजी स्वार्थ के लिए बिना सोचे-समझे अनाप-शनाप बकना शुरू कर दिया। वे मेरे नाम से गाली देते तो आपका नुकसान नहीं होता। इसलिए उन लोगों ने चौकीदार को ही चोर कह दिया। यह बात यहां अटकने या रुकने वाली नहीं है। हताशा में डूबे लोग आगे भी यही करेंगे। मेरा कोई पहली बार अपमान नहीं हुआ है। नामदारों की आदत है, कामदारों का अपमान करने की। कोई कामदार पीएम भी बन जाए तो ये लोग उसे ऐसे ही अपमानित करते रहेंगे। मैं तो यही कहूंगा कि हमें बहुत आगे बढ़ाना है। अपने बच्चों को डॉक्टर, इंजीनियर और देश का पीएम तक बनाना है लेकिन उसके अंदर के चौकीदार को जिंदा रखना है। हर हिंदुस्तानी के भीतर चौकीदार जिंदा रहना चाहिए।
ओडिशा से चौकीदार ने कहा, चिंता न करें… सब आपके साथ हैं
ओडिशा के संतोष कुमार ने कहा, ‘आपने पुलवामा हमले के बाद पाकिस्तान को मुंहतोड़ जवाब दिया। आपने चौकीदारों की इज्जत बढ़ा दी और देशवासियों का सेना गर्व से चौड़ा कर दिया। आप किसी चीज की चिंता न करें, हम सब आपके साथ हैं।’
इस पर पीएम मोदी ने आभार व्यक्त करते हुए कहा, ‘हमें अपनी सेनाओं पर गर्व होना चाहिए। आज हर भारतीय का सीना गर्व से चौड़ा है लेकिन टुकड़े-टुकडे़ गैंग को समर्थन देने वाले लोग इस बात को स्वीकार ही नहीं कर पा रहे हैं कि हमने पाकिस्तान में जाकर हमला कर दिया। हमला पाकिस्तान में हुआ, लेकिन यहां कुछ लोग चीख-चिल्ला रहे हैं। ऐसे लोगों को समझना होगा। देश जवानों की बहादुरी को कभी नहीं भूलेगा और पाकिस्तान पर हमले के बाद देश में चीखने वाले लोगों को भी देश नहीं भूलेगा।
खुद को चौकीदार कहने पर हंस पड़े मोदी
आंध्र प्रदेश से फोन करने वाले सनमुखा ने कहा, ‘मैं भी सुरक्षाकर्मी हूं। चौकीदार पर हमें गर्व है। मैं भी चौकीदार, आप भी चौकीदार। हम दोनों दिन-रात काम करते हैं। इसे लेकर आपको कैसा लगता है?’
खुद को चौकीदार कहने पर पीएम मोदी हंस पड़े और कहा, ‘मुझे खुशी हुई कि जो आप हैं, वही मैं हूं। आपने मुझे अपने बराबर माना इसके लिए मैं आभारी हूं। मैं इसे कभी नहीं भूल सकता हूं। हमें काम करना है, जी जान से करना है। हम जो काम करते हैं, वे सब चौकीदार हैं। टीचर बच्चों को शिक्षा देता है, वह भी चौकीदार है। डॉक्टर किसी की जान बचाता है, वह भी चौकीदार है। सेना के जवान भारत मां की रक्षा करते हैं, सब चौकीदार हैं। हमें सारी बाधाओं को चीरते हुए देश को विकास के पथ पर आगे बढ़ाना है।
अंत में पीएम मोदी ने अपनी सरकार की योजनाएं गिनाते हुए कहा, ‘हमारी सरकार ने गरीबों के विकास के लिए लगातार काम किया है। आयुष्मान भारत योजना ने गरीबों को बीमारी से लड़ने की हिम्मत दी है। हमने श्रमयोगी योजना शुरू की, किसानों के लिए हमने योजना शुरू की। आने वाले दिनों में हम और मेहनत करेंगे। मेरा काम हमेशा तत्पर रहने का है। जरा भी ढील दी तो चोर और भ्रष्टाचारी फायदा उठाते हैं। इसलिए हमें हमेशा सतर्क रहना है।’
‘गाली को बना लें गहना’
पीएम मोदी ने आगे कहा, ‘मैंने देखा कि आपकी बातों में मेरे प्रति प्रेम भी है और एक गहरा दर्द भी है। आपके दिल में चौकीदार को चोर कहे जाने का दर्द है। मैंने अपने जीवन में एक मंत्र बना लिया है कि हर गाली को गहना बना देता हूं। कोई कितना भी हमें चोर कहे, हम गाली को गहने बना दें और सम्मान के साथ जीवन जिएं।’
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »