PM मोदी ने कहा, भारत से वैक्‍सीन लेकर जा रहे विमान खाली नहीं लौटते

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि भारत में आज जो विमान वैक्सीन की लाखों डोज लेकर दुनियाभर में जा रहे हैं, वो खाली नहीं आ रहे हैं। वो अपने साथ भारत के प्रति भरोसा, भारत के प्रति आत्मीयता, स्नेह, आशीर्वाद और एक भावात्मक लगाव लेकर आ रहे है। पीएम मोदी बजट में डीपीआईटीटी से जुड़ी घोषणाओं को लेकर एक वेबिनार को संबोधित कर रहे थे।
वैक्सीन की तरह भारत का मोटा अनाज भी होगा उपयोगी
पीए मोदी ने अपने संबोधन में संयुक्त राष्ट्र की तरफ से साल 2023 को ‘International Year of Millets 2023’ घोषित करने के लिए आभार जताया। उन्होंने कहा कि भारत के इस प्रस्ताव के समर्थन में 70 से अधिक देश आए। पीएम मोदी ने कहा कि जिस तरह से हमने योग को दुनिया भर में प्रसारित किया है उसी तरह हम सब मिलकर मोटे अनाज को लेकर भी पूरी दुनिया में पहुंच सकते हैं। पीएम ने कहा कि जिस तरह से कोरोना से बचाने के लिए मेड इन इंडिया वैक्सीन है वैसे ही लोगों को बीमार होने से बचाने के लिए भारत में पैदा हुए मोटे अनाज भी उतना ही उपयोगी होगा।
लगभग 520 बिलियन डॉलर का उत्पादन होने की उम्मीद
पीएम मोदी ने कहा कि इस वर्ष के बजट में PLI स्कीम से जुड़ी योजनाओं के लिए करीब 2 लाख करोड़ रुपये का प्रावधान किया गया है। उत्पादन का औसतन 5% इंसेंटिव के रूप में दिया गया है। सिर्फ पीएलआई स्कीम के द्वारा ही आने वाले पांच सालों में लगभग 520 बिलियन डॉलर का उत्पादन भारत में होने का अनुमान है।
निर्माण को बढ़ावा देने को सुधार कर रही सरकार
पीएम ने प्रोडक्शन लिंक्ड इंसेंटिव स्कीम पर बोलते हुए कहा कि निर्माण की बढ़ती क्षमताएं देश में रोज़गार को बढ़ाती हैं। भारत इसी अप्रोच के साथ तेज़ी से काम करना चाहता है। इस सेक्टर में हमारी सरकार निर्माण को बढ़ावा देने के लिए एक के बाद एक सुधार कर रही है। पीएम मोदी ने कहा कि हमारी सरकार मानती है कि हर चीज़ में सरकार का दखल समाधान के बजाय समस्याएं ज़्यादा पैदा करता है। इसलिए हम सेल्फ रेगुलेशन पर जोर दे रहे हैं। इस वर्ष हमारा इरादा केंद्र और राज्य स्तर के 6,000 से ज़्यादा अनुपालन (Compliances) को कम करने का है।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *