एसोचैम के स्थापना सप्ताह में बोले पीएम मोदी, आत्मनिर्भर भारत के लिए लगा दें पूरी ताकत

नई दिल्‍ली। पीएम मोदी ने आज यानी 19 दिसंबर को उद्योग मंडल एसोचैम (ASSOCHAM ) के स्थापना सप्ताह को वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिये संबोधित किया। अपने संबोधन में उन्होंने तमाम कंपनियों को प्रोत्साहित किया। पूरे संबोधन के दौरान उनका सबसे अहम फोकस आत्मनिर्भर भारत पर रहा।
आत्मनिर्भर भारत के लिए लगा दें पूरी ताकत
पीएम बोले कि बीते 100 सालों से आप सभी देश की Economy को और करोड़ों भारतीयों के जीवन को बेहतर बनाने में जुटे हैं। अब आने वाले वर्षों में आत्मनिर्भर भारत के लिए आपको पूरी ताकत लगा देनी है। इस समय दुनिया चौथी औद्योगिक क्रांति की तरफ तेज़ी से आगे बढ़ रही है। नई टेक्नोलॉजी के रूप में चुनौतियां भी आएंगी और उनके अनेक समाधान भी आएंगे इसलिए आज वो समय है, जब हमें प्लान भी करना है और एक्ट भी करना है।
आने वाले 27 साल अहम
हमें हर साल के हर लक्ष्य को राष्ट्र निर्माण के एक बड़े लक्ष्य के साथ जोड़ना है। आने वाले 27 साल भारत के ग्लोबल होने को ही तय नहीं करेंगे, बल्कि ये हम भारतीयों के सपनों और डेडिकेशन दोनों को टेस्ट करेंगे। ये समय भारतीय इंडस्ट्री के रूप में आपकी क्षमता, कमिटमेंट और ताकत को दुनिया भर को दिखा देने का है। हमारा चैलेंज सिर्फ आत्मनिर्भरता ही नहीं है बल्कि हम इस लक्ष्य को कितनी जल्दी हासिल करते हैं, ये भी उतना ही महत्वपूर्ण है।
पहले कहते थे भारत ही क्यों, अब कहते हैं भारत क्यों नहीं!
एक जमाने में हमारे यहां जो परिस्थितियां थीं, उसके बाद कहा जाने लगा था कि भारत ही क्यों? अब जो रिफॉर्म देश में हुए हैं, उनका जो प्रभाव दिखा है, उसके बाद कहा जा रहा है कि भारत क्यों नहीं?
नया भारत, अपने सामर्थ्य पर भरोसा करते हुए, अपने संसाधनों पर भरोसा करते हुए आत्मनिर्भर भारत को आगे बढ़ा रहा है और इस लक्ष्य की प्राप्ति के लिए मैन्युफेक्चरिंग पर हमारा विशेष फोकस है। मैन्युफेक्चरिंग को बढ़ावा देने के लिए हम निरंतर रिफॉर्म कर रहे हैं। देश आज करोड़ों युवाओं को अवसर देने वाले एंटरप्राइज और वेल्थ क्रिएटर्स के साथ है।
रिसर्च पर निवेश बढ़ाने की जरूरत
पीएम मोदी ने कहा कि निवेश का एक और पक्ष है जिसकी चर्चा आवश्यक है। ये है रिसर्च एंड टेवलपमेंट- R&D पर होने वाला निवेश। भारत में R&D पर निवेश बढ़ाए जाने की जरूरत है।
डिजिटल इंफ्रास्ट्रक्चर पर फोकस
उन्होंने कहा कि 21वीं सदी की शुरुआत में अटल जी ने भारत को highways से connect करने का लक्ष्य रखा था। आज देश में Physical और Digital Infrastructure पर विशेष फोकस किया जा रहा है।
रतन टाटा को दिया अवॉर्ड
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से टाटा संस के चेयरमैन रतन टाटा को ‘एसोचैम एंटरप्राइज ऑफ द सेंचुरी अवॉर्ड’ प्रदान किया। रतन टाटा ने कहा- मैं वर्षों से व्यापार में रहा हूं, मैंने यह मान लिया है कि हमारे पीएम क्या करना चाहते हैं। उन्होंने महामारी के दौरान जिस तरह देश का नेतृत्व किया है उसके लिए हमें उनका कृतज्ञ होना चाहिए।
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *