विजिलेंस और एंटी करप्शन पर राष्ट्रीय सम्मेलन में पीएम मोदी बोले, भ्रष्टाचार का वंशवाद बड़ी चुनौती

नई दिल्‍ली। पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा है कि भ्रष्टाचार से लड़ना किसी एक एजेंसी का काम नहीं है, बल्कि यह सामूहिक जिम्मेदारी है। विजिलेंस और एंटी करप्शन पर राष्ट्रीय सम्मेलन को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि आज देश के सामने भ्रष्टाचार का वंशवाद बड़ी चुनौती बन गया है।
पीएम ने यह भी कहा कि भ्रष्टाचार, आर्थिक अपराध, ड्रग्स और मनी लॉन्ड्रिंग, आतंकवाद टेरर फंडिंग सभी आपस में जुड़े होते हैं।
पीएम मोदी ने कहा कि बीते वर्षों में देश करप्शन पर जीरो टॉलरेंस की अप्रोच के साथ आगे बढ़ रहा है। अब DBT के माध्यम से गरीबों की मिलने वाला लाभ 100 प्रतिशत गरीबों तक सीधे पहुंच रहा है। अकेले DBT की वजह से 1 लाख 70 हजार करोड़ रुपए से ज्यादा गलत हाथों में जाने से बच रहे हैं। आज ये गर्व के साथ कहा जा सकता है कि घोटालों वाले उस दौर को देश पीछे छोड़ चुका है।
पीएम मोदी ने देश में पीढ़ी दर पीढ़ी भ्रष्टाचार की समस्या का जिक्र करते हुए कहा, ”आज मैं आपके सामने एक और बड़ी चुनौती का जिक्र करने जा रहा हूं। ये चुनौती बीते दशकों में धीरे-धीरे बढ़ते हुए अब देश के सामने एक विकराल रूप ले चुकी है। ये चुनौती है- भ्रष्टाचार का वंशवाद। यानी एक पीढ़ी से दूसरी पीढ़ी में ट्रांसफर हुआ भ्रष्टाचार।”
पीएम मोदी ने कहा, ”बीते दशकों में हमने देखा है कि जब भ्रष्टाचार करने वाली एक पीढ़ी को सही सजा नहीं मिलती, तो दूसरी पीढ़ी और ज्यादा ताकत के साथ भ्रष्टाचार करती है। उसे दिखता है कि जब घर में ही, करोड़ों रुपए कालाधन कमाने वाले का कुछ नहीं हुआ तो उसका हौसला और बढ़ जाता है। इस वजह से कई राज्यों में तो ये राजनीतिक परंपरा का हिस्सा बन गया है। पीढ़ी दर पीढ़ी चलने वाला भ्रष्टाचार, भ्रष्टाचार का ये वंशवाद, देश को दीमक की तरह खोखला कर देता है।”
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *