बुद्ध पूर्णिमा पर वैश्विक समारोह को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा, कोरोना के मुश्किल वक्त में बुद्ध के आदर्शों पर चलना जरूरी

नई दिल्‍ली। पीएम नरेंद्र मोदी ने आज बुद्ध पूर्णिमा के अवसर पर वेसाक वैश्विक समारोह को वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से संबोधित किया। कोरोना का जिक्र करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि कोरोना की वजह से पूरी दुनिया संकट में है। भारत समेत दुनिया के कई देशों ने कोरोना की दूसरी लहर का सामना किया है। कोरोना संकट काल में मेडिकल स्टाफ ने जान दांव पर लगाकर सेवा दी।
‘मुश्किल वक्त में बुद्ध के आदर्शों पर चलना जरूरी’
पीएम मोदी ने कहा कि जिन लोगों ने इस दौरान अपनों को खोया है, उनके प्रति मेरी संवेदनाएं हैं। कोरोना ने पूरी दुनिया को बदलकर रख दिया है। पीएम मोदी ने आगे कहा कि इस मुश्किल वक्त में बुद्ध के आदर्शों पर चलना जरूरी है। कोरोना के खिलाफ जंग में हमें बौद्ध संस्थाओं से सहयोग मिल रहा है।
‘हमने एक सदी से ऐसी महामारी नहीं देखी’
पीएम मोदी ने वेसाक वैश्विक समारोह को संबोधित करते हुए कहा, ‘कई देशों और भारत ने कोरोना महामारी की दूसरी लहर को महसूस किया। हमने एक सदी से इस तरह की महामारी नहीं देखी। पिछले एक साल में कई बदलाव हुए। अब हमें महामारी की बेहतर समझ है, हमारे पास वैक्सीन है।’
आपको बता दें कि यह आयोजन भारत सरकार का संस्कृति मंत्रालय अंतरराष्ट्रीय बौद्ध परिसंघ (आईबीसी) के सहयोग से करता है। इसमें दुनिया भर के बौद्ध संघों के सर्वोच्च प्रमुख शामिल होंगे। पीएमओ के मुताबिक इस समारोह को दुनिया के 50 से अधिक प्रमुख बौद्ध धार्मिक नेता संबोधित करेंगे। वेसाक-बुद्ध पूर्णिमा को गौतम बुद्ध के जन्म, बुद्धत्व की प्राप्ति और महा परिनिर्वाण दिवस के रूप में मनाया जाता है।
संस्कृति मंत्रालय ने भी ट्वीट करके दी जानकारी
पीएम मोदी के इस कार्यक्रम की जानकारी PMO की ओर से जारी एक बयान में दी गई थी। इससे पहले भारत सरकार के संस्कृति मंत्रालय ने भी मंगलवार को ट्वीट करके जानकारी दी थी कि बुधवार को पीएम मोदी 2565वें अंतर्राष्ट्रीय बुद्ध पूर्णिमा दिवस के मौके पर बौद्ध समुदाय के लोगों को संबोधित करेंगे। पीएम मोदी बुधवार की सुबह 9.45 बजे वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए इस कार्यक्रम को संबोधित करेंगे।
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *