PM Modi ने ख‍िलाड़‍ियों को द‍िया कोरोना से जीतने का 5 सूत्रीय मंत्र

नई द‍िल्ली। PM Modi ने कोरोना वायरस की स्थिति को लेकर आज खेल जगत के 40 शीर्ष खिलाड़ियों से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए बात की। इस वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के दौरान भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली, पूर्व कप्तान और बीसीसीआइ अध्यक्ष सौरव गांगुली, पूर्व सलामी बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर, बैडमिंटन खिलाड़ी पीवी सिंधु, स्प्रिंटर हिमा दास और दर्जनों खिलाड़ियों ने हिस्सा लिया और PM Modi से बात की।

इसी वार्तालाप के दौरान PM Modi ने खिलाड़ियों को एक 5 सूत्रीय मंत्र दिया, जिससे कोविड 19 की महामारी से बचा सके। पीएम मोदी ने खिलाड़ियों को संकल्प, संयम, सकारात्मकता, सम्मान और सहयोग के बारे में बताया। प्रधानमंत्री कार्यायल के मुताबिक पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा कि खिलाड़ियों ने जिस तरह देश को गौरव दिलाया है, अब राष्ट्र का मनोबल बढ़ाने और सकारात्मक माहौल बनाने में महत्वपूर्ण भूमिकाने का जिम्मेदारी भी उनकी है।

पीएम मोदी ने इस बातचीत में ये भी कहा है कि खिलाड़ी अपने फिटनेस के वीडियो सोशल मीडिया पर शेयर कर रहे हैं,जिससे फिट रहने का संदेश मिल रहा है, जबकि जरूरतमंदों की मदद के लिए भी खिलाड़ी आगे आ रहे हैं। मोदी ने पीएम केयर्स में खिलाड़ियों द्वारा दिए गए योगदान के लिए भी खिलाड़ियों की सराहना की है। पीएम मोदी ने कहा है किहमारे खिलाड़ी भारत को COVID-19 से मुक्त बनाने की दिशा में उत्कृष्ट कार्य कर रहे हैं।

खिलाड़ियों ने भी दिया धन्यवाद

पीएमओ के मुताबिक, स्पोर्ट्सपर्सन्स ने भी पीएम को धन्यवाद दिया कि फ्रंटलाइन हेल्थ केयर वर्कर्स और इस लड़ाई में शामिल पुलिस कर्मियों को उनकी निस्वार्थ सेवा के लिए उनको सम्मान मिलेगा। उन्होंने अनुशासन, मानसिक शक्ति, फिटनेस आहार का पालन करने और इम्युनिटी बूस्ट करने के कदमों के बारे में बात की। कोरोना वायरस के संकट से देश को निकालने के लिए पीएम मोदी ने देश में 21 दिन के लॉकडाउन का फैसला लिया है।

इतना ही नहीं, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार की सुबह 9 बजे वीडियो संदेश के जरिए देश की जनता को एक बार फिर से संबोधित किया। 15 दिन में तीसरी बार संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने लोगों की सराहना की, जबकि एक संदेश वे प्रकाशपर्व की तरह लेकर आए। पीएम मोदी ने कहा है कि 5 अप्रैल को रविवार की रात 9 बजे 9 मिनट तक अपने घर की सभी लाइट बंद कर दें और फिर दरवाजे या फिर बालकनी में दिया, टॉर्च या मोबाइल की फ्लैश लाइट जलाएं।
– एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »