प्रधानमंत्री ने ओलम्पिक दल और पदक विजेताओं से की चाय पर मुलाकात, सिंधु से किया वादा भी पूरा किया

नई दिल्‍ली। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने पीवी सिंधु से ओलिंपिक में जाने से पहले कहा था कि वे पदक जीतकर लौटें, वे उनके साथ आइसक्रीम खाएंगे। आज वह वादा उन्होंने पूरा किया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भारतीय ओलम्पिक दल और टोक्यो ओलम्पिक के पदक विजेताओं से सोमवार को अपने अधिकारिक आवास पर चाय पर मुलाकात की।
सिंधू ने अपना पिछले ओलम्पिक का रजत पदक और टोक्यो में जीता कांस्य पदक श्री मोदी को दिखाया। प्रधानमंत्री ने दोनों पदकों को छूते हुए तस्वीर खिंचवाई। सिंधू को इस अवसर पर विशेष रूप से आइसक्रीम दी गयी।
प्रधानमंत्री ने इससे एक दिन पहले लाल किले पर आयोजित 75 वें स्वतंत्रता दिवस समारोह में खिलाड़ियों को आमंत्रित किया था। पीएम मोदी ने अपने भाषण में खिलाड़ियों को सराहा था और देश से उनकी सराहना करने का आग्रह किया था। भारतीय दल ने टोक्यो में रिकॉर्ड सात पदक जीतकर लंदन ओलम्पिक में छह पदक जीतने के अपने पिछले सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन को पीछे छोड़ दिया था। भाला फेंक एथलीट नीरज चोपड़ा ने भारत को 13 वर्ष के अंतराल के बाद जाकर पहला ओलम्पिक स्वर्ण दिलाया।
मोदी ने नीरज से विशेष रूप से अलग से मुलाकात की और उनके साथ तस्वीरें खिंचवाईं। प्रधानमंत्री ने कुश्ती रजत और कांस्य जीतने वाले भारतीय कुश्ती दल के साथ भी अलग से मुलाकात की। तस्वीर में श्री मोदी के दोनों तरफ पदक जीतने वाले खिलाड़ी रवि कुमार दहिया और बजरंग पूनिया नजर आ रहे थे। रवि ने टोक्यो में रजत और बजरंग ने कांस्य पदक जीता।
टोक्यो में 41 साल के लम्बे अंतराल के बाद कांस्य पदक जीतने वाली भारतीय पुरुष हॉकी टीम की भी मोदी से मुलाकात यादगार रही। भारतीय कप्तान मनप्रीत सिंह ने खिलाड़ियों के हस्ताक्षर वाली हॉकी स्टिक श्री मोदी को भेंट की। श्री मोदी ने अलग से मनप्रीत के साथ बात की और तस्वीर खिंचवाई।
श्री मोदी ने कांस्य जीतने वाली बैडमिंटन खिलाड़ी पीवी सिंधू और महिला मुक्केबाज लवलीना बोर्गोहैन से भी मुलाकात की।
सिंधु के टोक्यो रवाना होने से पहले मोदी ने कहा था, पदक मिला तो साथ में खाएंगे आईसक्रीम
टोक्यो ओलंपिक के लिए खिलाड़ियों से बातचीत के दौरान जब पीवी सिंधु से मोदी ने बातचीत की तो पीवी सिंधु का आइसक्रीम से संबंधित एक पुराना किस्सा उन्होने शेयर किया था। चर्चा की शुरुआत में प्रधानमंत्री ने पीवी सिंधु से उनकी प्रैक्टिस के बारे में पूछा था। इसके बाद मोदी ने कहा कि मुझे याद आता है कि गोपीचंदजी ने एक इंटरव्यू में कहा था कि उन्होंने रियो ओलंपिक से पहले आपका फोन ले लिया था।
आपको आइसक्रीम भी खाना अलाऊ नहीं किया था। क्या अभी भी आपके आइसक्रीम खाने पर पाबंदी लगी है या कुछ छूट मिली है? पीवी सिंधु ने मुस्कुराते हुए जवाब दिया था कि अभी भी इसको लेकर कंट्रोल करती हूं। एक एथलीट के लिए डाइट काफी महत्वपूर्ण होती है।
अभी ओलंपिक है, इसके लिए डाइट कंट्रोल तो करूंगी लेकिन आइसक्रीम उतना नहीं खाती। बस कभी-कभी खाती हूं। इस पर मोदी ने कहा था कि मुझे विश्वास है कि आप इस बार भी जरूर सफल होंगी। सफलता के बाद मेरा मिलना होगा तो मैं भी आपके साथ आइसक्रीम खाऊंगा।
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *