Alima khanam पर पाक कोर्ट ने लगाया करोड़ों का जुर्माना, संपत्ति कुर्की की चेतावनी

कोर्ट का कहना है कि अगर Alima khanam एक सप्ताह के भीतर पैसे जमा नहीं करती तो उनकी संपत्ति कुर्क कर ली जाएगी

इस्लामाबाद। पाकिस्तान की सुप्रीम कोर्ट ने प्रधानमंत्री इमरान खान की बहन Alima khanam को विदेश में संपत्ति के स्वामित्व मामले में 2.94 करोड़ रुपये का कर व जुर्माना भरने का आदेश दिया है।
कोर्ट ने यह राशि एक सप्ताह के भीतर जमा करने का आदेश दिया है। तीन जजों की पीठ ने यह भी कहा कि Alima khanam अगर अदालत के फैसले का सम्मान नहीं करती है तो उनकी संपत्ति कुर्क कर ली जाएगी। मामले की सुनवाई के दौरान अलीमा खानम और उनके वकील अदालत में मौजूद रहे।

जैसे ही मामले की सुनवाई आगे बढ़ी, मुख्य न्यायाधीश मिया साकिब निसार ने अलीमा खानम से पूछा, “आपने कितनी संपत्ति खरीदी थी? इस पर अलीमा ने जवाब देते हुए कहा, “मैंने 3,70,000 डॉलर की संपत्ति खरीदी थी जिसे 2017 में बेच दिया था।” उन्होंने कहा, “संपत्ति खरीदने के लिए पैसा बैंकिंग चैनल से भेजा गया। 50 फीसदी लोन लेकर रकम दी और 50% राशि मेरी थी।” अलीमा के वकील सलमान अकरम राजा ने फिर कहा, “हमने बैंक ट्रांजेक्शन और खाते का विवरण कोर्ट में जमा करा दिया है।”

फेडरल बोर्ड ऑफ रेवेन्यू (एफबीआर) ने अदालत से कहा कि खानम पर 2.94 करोड़ रुपये का जुर्माना और कर लगाया गया है। अलीमा खानम की पहचान संपत्ति के बेनामीदार मालिक के रूप में हुई है। इससे पहले की सुनवाई में एफबीआर ने अदालत को खानम की संपत्ति और कर ब्योरा दिया था।

सुप्रीम कोर्ट के जस्टिस ने लिया था स्वत: संज्ञान
सुप्रीम कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश ने अलीमा की संपत्ति पर 28 नवंबर को स्वत: संज्ञान लिया था। दरअसल पाकिस्तान के मुख्य न्यायाधीश मिया साकिब निसार बांध के लिए धन एकत्र करने के मकसद से लंदन के दौरे पर गए थे, तभी पत्रकारों ने अलीमा खान की विदेशों में संपत्ति होने की जानकारी दी थी।
-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »