राजीव एकेडमी में उच्च पैकेज पर हुए Placements

उच्च पैकेज पर Placements कर रहा छात्र-छात्राओं को आकर्षित, बीते वर्ष की अपेक्षा इस साल छात्रों को मिले सेलरी पैकेज प्रतिशत में आया उछाल
मथुरा। डाॅ. एपीजे अब्दुल कलाम टैक्नीकल यूनीवर्सिटी लखनऊ में राजीव एकेडमी फोर टेक्नोलाॅजी एंड मैनेजमेंट के पूरे उत्तर प्रदेश में उत्तम प्रदर्शन के बाद से यहां विभिन्न कोर्सों में एडमिशन लेने के लिए छात्र-छात्राओं का तांता लगा हुआ है। वैसे यहां संचालित होने वाले हर व्यावसायिक कोर्स की एक अलग विशेषता है। जिसके कारण छात्र-छात्राएं प्रवेश के लिए राजीव एकेडमी को ही प्राथमिकता दे रहे हैं। केवल मथुरा ही नहीं अपितु आगरा, एटा, मैनपुरी, इटावा, कानपुर, फिरोजाबाद, बिहार, लखनऊ, अलीगढ़, आदि क्षेत्रों के छात्र-छात्राएं भी लगातार इन्क्वायरी कर रहे हैं।
राजीव एकेडमी के निदेशक डाॅ. अमर कुमार सक्सैना लगातार छात्र-छात्राओं के रूझान पर नजर रख रहे हैं। डाॅ. सक्सैना का कहना है कि एमबीए और एमसीए ऐसे कोर्सेस हैं, जिनकी उपयोगिता पूरी दुनियां में है, क्योंकि किसी भी व्यावसायिक कोर्स में स्नातक डिग्री के बाद मास्टर डिग्री कोर्स छात्र-छात्राओं को उच्च स्तरीय सफलता दिलवाता है। विभिन्न कोर्सों को एक दृष्टि में रखते हुये उन्होंने बताया कि एमबीए द्विवर्षीय व एमसीए फुल टाइम त्रिवर्षीय कोर्स हैं। जो छात्र-छात्राएं बीसीए या बीएससी कम्प्यूटर साइंस या आईटी विषयों में स्नातक हैं। वे लेटरल एण्ट्री में सीधे प्रवेश ले सकते हैं। ये दोनों कोर्स डाॅ. एपीजे अब्दुल कलाम टैक्नीकल यूनीवर्सिटी लखनऊ से अपू्रव्ड है।

समस्त व्यावसायिक कोर्सों में पीडीपी क्लास और स्किल डिवेलपमेंट का बढ़ा काफी महत्व, विभिन्न जनपदों से प्रवेश को छात्र-छात्रा कर रहे पूछताछ,
आरके एजुकेशनल हब के चैयरमेन डा. रामकिशोर अग्रवाल, वाइस चैयरमेन पंकज अग्रवाल और एमडी मनोज अग्रवाल बोले-छात्र-छात्राएं अध्ययन के साथ-साथ अच्छे पैकेज पर रोजगार प्राप्त कर रहे

संस्थान में बीबीए, बीसीए, बीएससी (कम्प्यूटर साइंस) एवं बीई-काॅम कोर्सेज़ जो कि डाॅ. भीमराव अम्बेडकर यूनीवर्सिटी से अप्रूव्ड हंै। 12वीं के बाद प्रवेश ले सकते हैं। बीबीए प्रबंधन के क्षेत्र में त्रिवर्षीय स्नातक कोर्स है। इसमें किसी भी स्ट्रीम में इण्टरमीडिएट उत्तीर्ण छात्र-छात्राएं प्रवेश ले सकते हैं। बीबीए के बाद सभी क्षेत्रों में नौकरी की अपार सम्भावनाएं है। बीसीए जो कि कम्प्यूटर एप्लिकेशन में त्रिवर्षीय स्नातक कोर्स है, जिसमें इण्टरमीडिएट गणित विषय के साथ उत्तीर्ण होने वाले छात्र-छात्राएं प्रवेश ले सकते हैं।
निदेशक ने बताया कि राजीव एकेडमी में बीएससी कम्प्यूटर साइंस त्रिवर्षीय कोर्स है जिसमें (पीसीएम) विषय सहित से इण्टरमीडिएट उत्तीर्ण छात्र-छात्राएं प्रवेश ले सकते हैं। इसी कोर्स के अलावा इलैक्ट्राॅनिक काॅमर्स (बीई-काॅम) भी बहुत लोकप्रिय त्रिवर्षीय कोर्स है। जिसमें किसी भी स्ट्रीम के साथ इण्टरमीडिएट उत्तीर्ण छात्र-छात्राएं प्रवेश ले सकते हैं। आज के बढ़ते हुए ई-व्यापार जगत में इस कोर्स का बहुत महत्व है।
निदेशक ने बताया कि राजीव एकेडमी छात्र-छात्राओं और अभिभावकों की अपेक्षाओं पर हमेशा खरा उतरा है। उच्च व्यावसायिक अध्ययन के प्रत्येक छात्र-छात्राओं को उच्च पैकेज पर जाॅब दिलाने के लिए संकल्पित हैं। उन्हांेने कहा कि छात्र-छात्राओं में अपार प्रतिभा होती है। इसी को निखारने के लिए राजीव एकेडमी उन्हें गुणवत्तापरक व्यावसायिक शिक्षण प्रदान करने के लिए सत्त प्रयासरत है। इसी क्रम में प्रतिवर्ष सैकड़ों छात्र-छात्राएं देशी व विदेशी कम्पनियों में जाॅब इण्टरव्यू के माध्यम से उच्च पैकेज पर नौकरी भी प्राप्त कर रहे हैं।
आजकल प्रत्येक अभिभावक यह चाहते हंै कि अध्ययन के दौरान ही उनके पाल्य अच्छे पैकेज पर नौकरी प्राप्त कर लें। राजीव एकेडमी ने इसी धारणा को मूर्तरूप देते हुए अपने प्रत्येक विभाग में इसी विचार को साकार रूप देने का क्रम जारी रखा हुआ है। प्रतिवर्ष यहां छात्र-छात्राएं स्नातक स्तर पर ही जाॅब प्लेसमेंट में अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन करते हुए देशी-विदेशी कम्पनियों में नौकरी के लिए सलेक्ट हो रहे हंै। मुख्यरूप से छात्र-छात्राओं का बीबीए, बीसीए, बीएससी(सीएस) और बी.ई-काॅम पर अधिक फोकस है।
स्नातकोत्तर कोर्सों में एमबीए और एमसीए कोर्सों पर बहुसंख्यक छात्र-छात्राओं की नजरें टिकी हैं, क्योंकि एमबीए और एमसीए छात्र-छात्राओं का उच्च पैकेज पर नौकरी के लिए बड़ी संख्या में चयन हुआ है। राजीव एकेडमी में उच्च गुणवत्ता पर शिक्षा उपलब्ध होने के पीछे यहाँ उपलब्ध अत्याधुनिक संसाधन व पीडीपी क्लासें अभिभावक और छात्र-छात्राओं की पशन्द हंै। आज हरेक छात्र-छात्रा का सपना भी यही है कि अध्ययन के साथ-साथ अच्छे पैकेज पर जाॅब मिले। अर्थात शिक्षा और अच्छा जाॅब प्लेसमेंट यही आज के विद्यार्थी और अभिभावकों की प्राथमिकता है। इसी कारण राजीव एकेडमी में-प्रवेश लेने के इच्छुक छात्र-छात्राओं की भीड़ लगी है। इसी बात से संस्थान का स्टूडेण्ट ग्राफ लगातार बढ़ता जा रहा है। छात्रों के साथ अनेक अभिभावक भी लगातार संपर्क करते देखे जा रहे हैं।
रोजगार प्रदान करने में बीएड, एमएड, एमलिब. और बीलिब. साइंस कोर्सेस भी काफी लोकप्रिय हो रहे हैं। बी.लिब. साइंस कोर्स एक वर्षीय कोर्स है। जिसमें बैचलर डिग्री उत्तीर्ण छात्र-छात्राएं प्रवेश ले सकते हैं। एम.लिब. एक वर्षीय मास्टर डिग्री कोर्स से बी.लिब. उत्तीर्ण छात्र-छात्राएं प्रवेश ले सकते हैं। बीएड. और एम.एड. में एन.सी.टी.ई के निर्धारित मानकों के अनुरूप प्रवेश परीक्षा द्वारा प्रवेश होता है। ये दोनों कोर्सेंस रोजगारपरक कोर्स हैं। जिनके माध्यम से प्रतिष्ठित माध्यमिक विद्यालयों, पब्लिक स्कूलों तथा महाविद्यालयों में अच्छे पैकेज पर नौकरी प्राप्त हो रही हैं।
आरके एजुकेशनल हब के चैयरमेन डा. रामकिशोर अग्रवाल, वाइस चैयरमेन पंकज अग्रवाल और एमडी मनोज अग्रवाल ने कहा कि राजीव एकेडमी में उच्च व्यावसायिक अध्ययन के समस्त कोर्सों के छात्र-छात्राएं अध्ययन के साथ-साथ अच्छे पैकेज पर रोजगार प्राप्त कर रहे हैं। हमारा संकल्प है कि आने वाले समय में अध्ययन-अध्यापन के क्षेत्र में वे समस्त नई तकनीकें जिनके माध्यम से छात्र-छात्राओं को और अधिक लाभ हो सकता है, को अपनाया जा रहा है। प्राध्यापकगण भी अपने नजरिये से छात्र-छात्राओं को सरलतम तरीके से उच्च व्यावसायिक अध्ययन में अब्बल रहने के टिप्स दे रहे हैं। छात्र-छात्राएं भी Placements का निरन्तर लाभ ले रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »