संस्कृति यूनिवर्सिटी के छात्रों का C-Core India में प्‍लेसमेंट

मथुरा।  C-Core India टेक्नोसोलेशन प्राइवेट लिमिटेड, लखनऊ के अधिकारियों ने संस्कृति यूनिवर्सिटी की छात्र-छात्राओं की बौद्धिक क्षमता की न केवल ताऱीफ की बल्कि चार छात्र-छात्राओं को उच्च पैकेज पर कम्पनी में सेवा का अवसर भी प्रदान किया। ये छात्र-छात्राएं C-Core India कम्पनी में साफ्टवेयर इंजीनियर और कम्पनी प्रमोटर के रूप में कार्य करेंगे। शिक्षा समाप्ति से पूर्व ही मिले इस अवसर पर छात्रा शिवानी गौतम का कहना है कि इस आशातीत सफलता से मैं ही नहीं मेरे माता-पिता भी खुश हैं।

C-Core India टेक्नोसोलेशन प्राइवेट लिमिटेड, लखनऊ की जहां तक बात है यह कम्पनी कम्प्यूटर टेक्नोलाजी और साफ्टवेयर के क्षेत्र में देश भर में अपनी पहचान रखती है। छात्र-छात्राओं की प्रतिभा का मूल्यांकन करने से पहले कम्पनी के एच.आर. मैनेजर अजय गौतम ने छात्र-छात्राओं को कम्पनी की कार्यप्रणाली से अवगत कराया। छात्रों को कम्पनी की कार्यशैली से अवगत कराने के बाद उनकी लिखित परीक्षा ली गई। लिखित परीक्षा में सफलता हासिल करने वाले छात्र-छात्राओं का तकनीकी कौशल जांचा-परखा गया। इसके बाद सी-कोर इंडिया टेक्नोसोलेशन प्राइवेट लिमिटेड, लखनऊ ने चार छात्राओं को कम्पनी में सेवा का अवसर दिया है उनमें शिवानी गौतम, राहुल जैन, नमन आर्य, पलक सचदेवा शामिल हैं।

चयनित छात्र राहुल जैन, नमन आर्य, छात्रा शिवानी गौतम और पलक सचदेवा का कहना है कि शिक्षा पूरी करने से पहले ही एक बड़ी कम्पनी में सेवा का अवसर मिलना हमारे लिए खुशी की बात है। छात्रों ने माना कि यह सब संस्कृति यूनिवर्सिटी में प्लेसमेंट पूर्व कराई जा रही तैयारियों का नतीजा है। संस्थान के कुलाधिपति सचिन गुप्ता और उप-कुलाधिपति राजेश गुप्ता का कहना है कि संस्कृति यूनिवर्सिटी का उद्देश्य छात्र-छात्राओं को कौशलपरक शिक्षा में दक्ष करना है ताकि वे आत्मनिर्भर बन सकें। खुशी की बात है कि संस्थान के छात्र-छात्राएं लगातार बड़ी-बड़ी कम्पनियों में अपनी प्रतिभा से नौकरी हासिल कर रहे हैं।

कुलपति डा. राणा सिंह, कार्यकारी निदेशक पी.सी. छाबड़ा, ओएसडी मीनाक्षी शर्मा, निदेशक कम्प्यूटर साइंस डा. संजीव कुमार सिंह,  हेड कार्पोरेट रिलेशन आर.के. शर्मा, मैनेजर कार्पोरेट रिलेशन तान्या उपाध्याय ने चयनित विद्यार्थियों को बधाई देते हुए उज्ज्वल भविष्य की कामना की।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »