अंबेडकर विवि के कुलपति के खिलाफ AUTA का प्रदर्शन

आगरा। डॉ. भीमराव आंबेडकर विश्विद्यालय के AUTA (आगरा यूनीवर्स‍िटी टीचर्स एसोस‍िएशन ) ने मंगलवार दोपहर कुलपति के खिलाफ एमजी रोड पर जुलूस निकालकर जोरदार प्रदर्शन किया। कुलपति के खिलाफ जमकर नारेबाजी हुई और जिला मुख्यालय पर प्रदर्शन के दौरान एमजी रोड पर जाम भी लग गया। आंबेडकर विवि के इतिहास में ऐसा पहली बार हुआ है कि AUTA (आगरा यूनीवर्स‍िटी टीचर्स एसोस‍िएशन ) के शिक्षकों ने कुलपति के खिलाफ विवि परिसर से बाहर निकलकर प्रदर्शन किया हो। इस प्रदर्शन का आह्वान शिक्षकों की संस्‍था औटा ने किया था।

आंबेडकर विवि से संबंधित कॉलेजों के शिक्षक कुलपति डा. अरविंद दीक्षित से टीचर वेलफेयर फंड की रकम लौटाने की मांग कर रहे हैं। शिक्षकों का आरोप है कि कुलपति ने टीचर वेलफेयर फंड का 1.50 करोड़ रुपये विवि के दूसरे खाते में इसी वर्ष तीन जनवरी को ट्रांसफर कर दिया।

आगरा के डॉ. भीमराव आंबेडकर विश्वविद्यालय शिक्षक संघ (औटा) शिक्षक कल्याण कोष के खाते से डेढ़ करोड़ रुपये निकालने का मामला तूल पकड़ गया है। इसके विरोध में मंगलवार को शिक्षकों ने जुलूस निकालकर प्रदर्शन किया। इसके बाद कलेक्ट्रेट में एसीएम द्वितीय को ज्ञापन सौंपा गया।

महात्मा गांधी मार्ग (एमजी रोड) पर विश्वविद्यालय से संबंधित कॉलेजों के कई शिक्षक हाथों में नारे लिखीं तख्तियां लेकर निकले। सभी शिक्षक कुलपति के विरोध में नारेबाजी करते हुए चल रहे थे।

एमजी रोड होते हुए शिक्षकों का जुलूस कलेक्ट्रेट पहुंचा। उन्होंने एसीएम द्वितीय विमल कुमार अपनी मांगों का ज्ञापन सौंपा। बता दें कि शिक्षक संघ इस मामले में राज्यपाल और मुख्यमंत्री को पत्र भी भेज चुका है।

औटा की मांग है कि शिक्षक कल्याण कोष के खाते से निकाली गई रकम वापस की जाए। उधर, विश्वविद्यालय प्रशासन का कहना है कि समिति के निर्णय के मुताबिक शिक्षकों के लिए तैयार हो रहे चाणक्य भवन में धनराशि लगाई गई है।

शिक्षक संघ के विरोध प्रदर्शन के चलते एमजी रोड पर जाम लग गया। इसके कारण वाहन चालकों को परेशानी का सामना करना पड़ा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *