अब सीधे खाते में जाएगी टेलीकॉम विभाग और बीएसएनएल कर्मचारियों की पेंशन

लखनऊ। टेलीकॉम विभाग और बीएसएनएल के पेंशनर्स को एक अप्रैल से बड़ी राहत मिलने जा रही है। उनकी पेंशन नए सॉफ्टवेयर के जरिए सीधे बैंक खाते में वेतन की तरह आएगी। अभी तक इन पेंशनरों को डाकघर और बैंक के जरिए पेंशन मिल रही है जिससे अक्सर उनको किसी न किसी दिक्कत का सामना करना पड़ रहा है। देश भर में 3.5 लाख बीएसएनएल कर्मचारियों को इसका लाभ मिलेगा।
लखनऊ, वाराणसी, इलाहाबाद, गोरखपुर समेत सूबे के पूर्व सर्किल के जिलों में 21 हजार कर्मचारियों को अप्रैल से सीधे बैंक खाते में पेंशन मिलेगी।
पेंशनरों के लिए गूगल प्ले स्टोर पर मोबाइल ऐप भी दी गई है। सीसीए (कंट्रोलर ऑफ कम्यूनिकेशन एकाउंट) संजीव कुमार सिंह ने गुरुवार को बताया कि दूरसंचार देश में पहला ऐसा विभाग है जिसने यह व्यवस्था लागू की है। ‘सम्पन्न’ सॉफ्टवेयर के जरिए पेंशनधारकों को विवरण के साथ भुगतान किया जाएगा।
उन्होंने बताया कि अभी तक सात हजार पेंशनरों को डाक विभाग के जरिए भुगतान हो रहा है। इसके अलावा 13 हजार को बैंकों के जरिए भुगतान किया जा रहा है। पूर्वी परिमंडल में करीब 21 हजार पेंशन धारक इस व्यवस्था का लाभ उठा सकेंगे जिन पर 600 करोड़ रुपए पेंशन का सालाना खर्च आएगा। बीती 29 दिसम्बर को वाराणसी मं नियंत्रक संचार लेखा यानी सीसीए के कार्यालय का उद्घाटन किया गया है। अप्रैल के बाद से सालाना 20 हजार नए पेंशनधारकों को इस नई व्यवस्था से भुगतान किया जाएगा।
35 करोड़ रुपए का खर्च बचेगा
बैंकों और डाकघरों को पूर्व कर्मचारियों की पेंशन देने के लिए अभी तक कमीशन और अन्य मदों में काफी बड़ी धनराशि देनी पड़ रही है। सीसीए संजीव कुमार सिंह ने बताया कि इस नई व्यवस्था के लागू हो जाने से 35 करोड़ रुपए का सालाना खर्च बचाया जा सकेगा।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »