संसद रबर स्‍टांप बन चुकी है, सेना चला रही है देश: नवाज शरीफ

पाकिस्‍तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने एक बार फिर से पाक सेना प्रमुख जनरल कमर जावेद बाजवा पर जोरदार हमला बोला है।
उन्‍होंने सेना प्रमुख का नाम लिए बिना कहा कि देश की संसद रबर स्‍टांप बन गई है और सांसदों की जगह पर कोई और देश की संसद को चला रहा है। उन्‍होंने अपनी बेटी मरियम के इस बयान से सहमति जताई कि राजनीतिक फैसले संसद में लिए जाने चाहिए न कि सेना मुख्‍यालय में।
शरीफ ने अपनी पार्टी पीएमएल-एन की एक बैठक में कहा, ‘लोगों ने मुझे बताया है कि कोई और पाकिस्‍तान को चला रहा है। ये लोग आते हैं और दिनभर के अजेंडे और विधेयकों पर वोटिंग के दिशा-निर्देश देते हैं।’ इससे पहले मरियम ने सेना प्रमुख और आईएसआई चीफ के साथ प्रमुख विपक्षी नेताओं की बैठक को लेकर पूछे गए एक सवाल के जवाब में कहा था कि राजनीतिक फैसले सेना के मुख्‍यालय में नहीं बल्कि संसद में होने चाहिए।
नवाज शरीफ ने पार्टी कार्यकर्ताओं से कहा कि आज हम एक स्‍वतंत्र नागरिक नहीं हैं। मेरे खिलाफ चल रही सुनवाई में सेना के एक कर्नल अपना चेहरा छिपाते नजर आ रहे थे। उन्‍होंने कहा, ‘कर्नल के अपने चेहरे को छिपाने को छिपाने के पीछे क्‍या कारण है? आप पाखंडी हो गए हो, इसलिए चेहरा छिपा रहे हो।’ नवाज शरीफ ने अपने भाई की गिरफ्तारी पर दुख जताया।
नवाज शरीफ के भाई अरेस्‍ट, चल रही जांच
बता दें कि पाकिस्तान में विपक्ष के नेता एवं पीएमएल-एन प्रमुख शहबाज शरीफ को जवाबदेही अदालत ने आय के ज्ञात स्रोतों से अधिक संपत्ति और धनशोधन के मामले में 14 दिनों की हिरासत में भेज दिया है। शहबाज शरीफ को एक दिन पहले ही राष्ट्रीय जवाबदेही ब्यूरो (एनएबी) ने यहां गिरफ्तार किया था। पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ के छोटे भाई शहबाज को सोमवार को लाहौर उच्च न्यायालय परिसर से तब हिरासत में ले लिया गया था जब अदालत ने 700 करोड़ रुपये के धनशोधन मामले में उनकी जमानत अर्जी खारिज कर दी थी।
पंजाब प्रांत के पूर्व मुख्यमंत्री शहबाज शरीफ (69) को मंगलवार को जवाबदेही अदालत के न्यायाधीश जवाद-उल-हसन के समक्ष पेश किया गया। शहबाज ने अदालत से अनुरोध किया कि वह उनके वकील के बजाय उन्हें दलीलें पेश करने की इजाजत दे। अदालत ने यह अनुरोध स्वीकार कर लिया। उन्होंने कुछ भी गलत करने से इंकार किया और कहा कि प्रधानमंत्री इमरान खान की एनएबी के साथ गठजोड़ ने देश में जवाबदेही का मखौल उड़ाया है और वे केवल विपक्षी नेताओं को निशाना बना रहे हैं। उन्होंने कहा, ‘मेरे खिलाफ धनशोधन के आरोप आधारहीन हैं। मैं कोई व्यापार नहीं करता। मेरे अभिभावकों ने व्यापार को स्थापित करने के लिए कड़ी मेहनत की और उसे मेरे बच्चों को हस्तांतरित कर दिया।’
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *