परिणीति चोपड़ा का बर्थडे आज, जानिए कुछ इंट्रेस्टिंग बातें

मुंबई। एक्‍ट्रेस परिणीति चोपड़ा आज यानी 22 अक्‍टूबर को अपना बर्थडे सेलिब्रेट कर रही हैं। इस खास मौके पर हम आपको फिल्म ‘लेडीज वर्सेज रिकी बहल’ से बॉलिवुड में डेब्‍यू करने वाली परिणीति के बारे में कुछ इंट्रेस्टिंग चीजें बता रहे हैं।
राष्‍ट्रपति से मिला सम्‍मान
परिणीति ने 12वीं क्लास में टॉप किया था जिसके बाद उन्हें राष्ट्रपति द्वारा सम्मानित किया गया था। उन्‍होंने मैनचेस्टर बिजनेस स्कूल से फाइनैंस, बिजनेस और इकनॉमिक्‍स की पढ़ाई की है।
बनना था इन्वेस्टमेंट बैंकर
परिणीति इन्वेस्टमेंट बैंकर बनना चाहती थीं, उन्होंने कुछ समय तक बैंक में नौकरी भी की लेकिन मंदी के कारण उनकी जॉब चली गई। इसके बाद वह 2009 में भारत आ लौट आईं और फिर फिल्‍मों में ट्राई किया।
सैफ की हैं दीवानी
परिणीति बॉलिवुड के सबसे कूल एक्‍टर्स में से एक सैफ अली खान की बहुत बड़ी फैन हैं। सैफ के लिए उनकी दीवानगी का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि चिप्स के उन पैकेट्स को इकट्ठा करती थीं जिन पर एक्‍टर की तस्‍वीर होती थी।
रानी मुखर्जी की पर्सनल असिस्‍टेंट
परिणीति ने एक दिन के लिए रानी मुखर्जी की पीए के तौर पर भी काम किया है। एक्‍ट्रेस के मुताबिक वह रानी ही थीं जिन्‍होंने उनसे कहा था क‍ि उन्‍हें फिल्‍मों में ट्राई करना चाहिए।
नाखूनों को देख लगाती हैं लोगों का अंदाजा
परिणीति एक ट्रेन्‍ड क्लासिकल सिंगर भी हैं। इसके अलावा उन्‍हें खाने में पिज्जा बेहद पसंद है। वह काफी जजमेंटल भी हैं। करण जौहर के चैट शो ‘कॉफी विद करण’ के एक सीजन में आदित्य रॉय कपूर ने बताया था कि परिणीति लोगों के नाखूनों को देखकर ही उनके बारे में अंदाजा लगा लेती हैं।
जब डिप्रेशन के दौर में पहुंचीं परिणीति
एक टॉक शो के दौरान परिणीति ने बताया था कि साल 2014 से 2015 तक का समय उनकी जिंदगी का सबसे बुरा समय था। एक्‍ट्रेस ने बताया था कि जब उनकी फिल्‍में ‘दावत-ए-इश्क’ और ‘किल दिल’ नहीं चलीं तो यह उनके लिए सबसे बड़ी नाकामयाबी थी और फिर उनके पास पैसे भी खत्‍म हो गए।
खाना बंद किया, सोना छोड़ दिया
परिणीति ने बताया था कि उन्‍होंने घर खरीदा और इसके बाद उनकी जिंदगी और भी बुरे हालात से गुजरने लगी। उन्‍होंने खाना खाना और सोना बंद कर दिया, लोगों से मिलना छोड़ दिया। यहां तक कि उन्‍होंने अपनी फैमिली तक से कॉन्‍टैक्‍ट खत्म कर लिया था। यह वक्‍त था जब वह बहुत बुरी तरह डिप्रेशन में चली गई थीं। इस बुरे दौर में जिन दो लोगों ने उनका सबसे ज्‍यादा साथ दिया, वह उनके भाई सहज चोपड़ा और दोस्त संजना थे।
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *