Pappu Yadav का बड़ा बयान, लालू यादव को उनके परिवार वाले ही मारना चाहते हैं

Pappu Yadav और तेजस्वी यादव के बीच जंग तेज हुई, भारत बंद के बाद पप्पू यादव ने तेजस्वी को बताया ‘नालायक’

पटना। Pappu Yadav ने कहा कि लालू यादव के परिवार में कोई नहीं चाहता है कि वह ठीक हों। अपने परिवार की वजह से ही लालू यादव आज जेल में हैं। परिवार वाले बिल्कुल नहीं चाहते की वह जेल से बाहर आएं, लालू यादव को उनके परिवार वाले ही मारना चाहते हैं।

कांग्रेस के भारत बंद को पप्पू यादव ने समर्थन दिया था। साथ ही उनकी जन अधिकार पार्टी के समर्थकों ने बिहार में जमकर उत्पात मचाया था जिससे महागठबंधन की भारत बंद के दौरान काफी बदनामी हुई थी। वहीं इस मामले में आरेजडी नेता तेजस्वी यादव ने पप्पू यादव को बीजेपी का एजेंट बताते हुए कहा कि वह बदनामी कराने के लिए बंद में शामिल हुए थे। जेडीयू ने भी तंज कसते हुए पूछा कि आरजेडी और पप्पू यादव के बीच यह रिश्ता क्या कहलाता है। अब इसके बाद आरजेडी और जेडीयू से पप्पू यादव की ठन गई है।

पप्पू यादव ने जेडीयू पर भी हमला बोला है। पप्पू यादव ने जेडीयू प्रवक्ता पर अपशब्द बोलते हुए कहा कि सभी प्रवक्ता दलाल है। उन्होंने कहा कि जेडीयू प्रवक्ता क्या परोसते हैं सब मुझे मालूम है। जल्द ही उनके बारे में खुलासा करूंगा।

बहरहाल, जेडीयू और आरजेडी की ओर से पप्पू यादव को धक्का लगने के बाद उन्होंने दोनों पार्टियों के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। और दोनों पार्टियों के खिलाफ जमकर बयान दे रहे हैं। ऐसे में अब बिहार की राजनीति में बयानबाजी का दौर शुरू होने वाला है और आरजेडी और जेडीयू दोनों के निशाने पर पप्पू यादव रहनेवाले हैं।

पप्पू यादव ने तेजस्वी यादव पर कड़ा हमला बोलते हुए उन्हें नालायक कहा है। पप्पू यादव ने कहा है कि आरजेडी में लालू यादव ही केवल लायक हैं। बाकी उनका बेटा और परिवार सभी नालायक ही है। साथ ही उन्होंने कहा कि आरजेडी लालू यादव से ही है। लालू यादव से आरजेडी था और उन्हीं से ही समाप्त हो जाएगा।

पप्पू यादव ने तेजस्वी यादव पर आरोप लगाते हुए कहा कि भारत बंद के दौरान तेजस्वी के साथ कई अपराधी और बालू माफिया थे, लालू परिवार ने पूरे बिहार को लूट लिया है। तेजस्वी ने पप्पू यादव को एजेंट कहा था जिस पर पप्पू यादव ने उन्हें कानूनी नोटिस भेजनी की बात कही है।
-एजेंसी

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *