वैज्ञानिकों के पैनल का अनुमान, भारत में फरवरी 2021 तक खत्‍म हो जाएगा कोरोना

नई दिल्‍ली। भारत में कोरोना वायरस महामारी अपने चरम से गुजर चुकी है और अब ढलान पर है। सरकार की ओर से बनाई गई वैज्ञानिकों की एक समिति का यही मानना है।
पैनल के मुताबिक कोरोना महामारी फरवरी 2021 तक खत्‍म होने की संभावना है।
उसके अनुसार भारत में कोरोना के 10.6 मिलियन यानी एक करोड़ छह लाख से ज्‍यादा केस नहीं होंगे। अभी भारत में कोरोना के कुल 75 लाख से ज्‍यादा केस हैं। कमेटी ने कहा कि वायरस से बचाव को लेकर किए जा रहे उपाय जारी रखे जाने चाहिए। समिति ने महामारी के रुख को मैप करने के लिए कम्‍प्‍यूटर मॉडल्‍स का इस्‍तेमाल किया है।
लॉकडाउन न लगता तो जाती 25 लाख से ज्‍यादा जानें
सरकार के प्रधान वैज्ञानिक सलाहकार के. विजयराघवन ने इस समिति का गठन किया था। आईआईटी हैदराबाद के प्रोफेसर एम विद्यासागर इसके प्रमुख हैं।
समिति के मुताबिक अगर भारत ने मार्च में लॉकडाउन न लगाया होता तो देशभर में 25 लाख से ज्‍यादा लोगों की जान गई होती। अब तक इस महामारी से 1.14 लाख मरीजों की मौत हुई है।
कोरोना की दूसरी वेव का खतरा बरकरार
नीति आयोग के सदस्‍य और कोविड एक्‍सपर्ट पैनल के चीफ डॉ वीके पॉल ने न्‍यूज़ एजेंसी पीटीआई से बातचीत में कहा, “पिछले तीन हफ्तों में नए मामले और मौतों की संख्‍या घटी है लेकिन हम सर्दियों के मौसम में भारत में कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर की संभावना से इंकार नहीं कर सकते।” उन्होंने कहा कि एक बार कोविड-19 का टीका आ जाए, उसके बाद उसे नागरिकों को उपलब्ध कराने के लिए पर्याप्त संसाधन हैं। उनके मुताबिक भारत अब कहीं बेहतर स्थिति में है लेकिन अभी लंबा रास्ता तय करना है क्योंकि 90 प्रतिशत लोग अब भी कोरोना वायरस से आसानी से संक्रमित हो सकते हैं।
रिकवरी रेट 88 पर्सेंट के पार
देश में पिछले 24 घंटों में कोरोना के 61,871 नए मामले सामने आए हैं। कुल मामलों की संख्या 74,94,551 हो गई है। केंद्रीय स्वास्थ्य एवं कल्याण मंत्रालय के अनुसार, पिछले 24 घंटों में कोरोना वायरस से 1,033 मौतें हुई हैं। जिसके बाद कुल मौतों की संख्या 1,14,031 हो गई है। देश में रिकवरी दर बढ़ कर 88.03 फीसदी हो गई है, जबकि मृत्यु दर 1.53 प्रतिशत है। भारत में रोजाना कोरोना मामलों की संख्या अब अमेरिका से कम हो गई है।
एक्टिव केसेज में भी गिरावट
देश में फिलहाल 7,83,311 एक्टिव मामले हैं जिसमें शनिवार के मुकाबले 11,776 की कई आई है। एक दिन में 72,614 मरीज इस बीमारी से उबरे, जिसके बाद रिकवर होने वालों की कुल संख्या 65,97,210 हो गई है। महाराष्ट्र अभी भी कोरोनावायरस से सबसे ज्यादा प्रभावित राज्य बना हुआ है। यहां अब तक 15,86,321 मामले दर्ज हो चुके हैं और 41,965 मरीज इस बीमारी से अपनी जान गंवा बैठे हैं।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *