पाकिस्तान का आरोप, गिलानी की अंत्येष्टि के लिए परिवार पर दबाव डाला गया

नई दिल्‍ली। पाकिस्तान ने कश्मीर के अलगाववादी सैय्यद अली शाह गिलानी की मौत पर भारत के कथित आपत्तिजनक आचरण को लेकर आपत्ति जताई है. पाकिस्तान ने भारत के राजनयिक को तलब कर अपनी आपत्ति ज़ाहिर की.
पाकिस्तान का आरोप है कि गिलानी की अंत्येष्टि के लिए परिवार पर दबाव डाला गया.
पाकिस्तान का ये भी कहना है कि उनके परिवार को इच्छानुसार शव दफ़नाने की इजाज़त नहीं दी गई.
पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय के कार्यालय की ओर से जारी एक बयान में कहा गया है, “भारतीय उच्चायोग को आज विदेश मंत्रालय के कार्यालय में तलब किया गया और गिलानी के शव के साथ सेना के अमानवीय व्यवहार पर आपत्ति जताई गई.”
विदेश मंत्रालय ने कहा कि भारतीय राजनयिक को यह भी बताया गया कि भारत की कार्रवाई अंतर्राष्ट्रीय मानवीय क़ानूनों और मानवाधिकारों के सिद्धांतों का “उल्लंघन” है.
गिलानी की मौत बुधवार को हुई थी.
उन्हें गुरुवार को कड़ी निगरानी में दफ़नाया गया था. इस दौरान भारतीय कश्मीर में कई तरह की पाबंदियां लगा दी गई थीं.
एक पुलिसकर्मी ने समाचार एजेंसी एएफ़पी को बताया कि उन्हें श्रीनगर में उनके घर के पास एक क़ब्रिस्तान में दफ़नाया गया. इस दौरान उनके दो बेटों सहित सिर्फ़ कुछ रिश्तेदार ही मौजूद थे.
जारी बयान में कहा गया है कि पाकिस्तान ने भारतीय राजनयिक पर ज़ोर देकर कहा कि भारत को “किसी भी ग़लत क़दम से बचना चाहिए जो क्षेत्रीय शांति को और ख़तरे में डाल सकती है.”
अलगाववादी के लिए इस्लामाबाद की फैसल मस्जिद में भी नमाज़ अदा की गई. राष्ट्रपति डॉ. आरिफ अल्वी समेत कई नेता इस प्रार्थना में शामिल हुए.
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *