पाकिस्तान के तेज गेंदबाज मोहम्मद आमिर ने टेस्ट क्रिकेट से संन्यास लिया

पाकिस्तान के तेज गेंदबाज मोहम्मद आमिर ने शुक्रवार को टेस्ट क्रिकेट से संन्यास का ऐलान कर दिया। 27 वर्षीय यह तेज गेंदबाज मोहम्मद अब पूरी तरह सफेद बॉल (सीमित ओवरों) क्रिकेट पर फोकस करना चाहता है इसलिए उन्होंने लाल बॉल (टेस्ट फॉर्मेट) क्रिकेट से संन्यास की घोषणा की।
आमिर ने अपने संन्यास के फैसले पर जारी एक स्टेटमेंट में कहा, ‘मेरे लिए यह सम्मान की बात थी कि क्रिकेट के शीर्ष और पारंपरिक फॉर्मेट में पाकिस्तान के लिए खेला लेकिन अब मैंने इस लंबे प्रारूप से अलग होने का फैसला किया है ताकि मैं सफेद बॉल क्रिकेट पर और ध्यान लग सकूं।’
आमिर ने कहा, ‘पाकिस्तान के लिए खेलना मेरी सबसे बड़ी इच्छा और लक्ष्य रहा है। अब मैं सफेद बॉल क्रिकेट के लिए अपने शरीर को बेस्ट शेप में लाने पर काम करूंगा ताकि मैं इस खेल में अपना बेस्ट परफॉर्म कर सकूं। इसमें अगले साल होने वाला आईसीसी टी20 वर्ल्ड कप भी शामिल है।
इस तेज गेंदबाज ने यह भी बताया कि टेस्ट क्रिकेट से अलग होने का फैसला उनके लिए आसान नहीं था और वह पिछले कुछ समय से इस पर सोच रहे थे लेकिन अब जल्दी ही आईसीसी वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप की शुरुआत होने जा रही है और पाकिस्तान में कुछ बहुत अच्छे फास्ट बोलर भी आ रहे हैं। ऐसे में अपने आपको टेस्ट क्रिकेट से अलग करने का यह सही समय है, ताकि सिलेक्टर्स को भी अपनी योजनाओं पर काम करने का मौका मिल सके।
बता दें 27 वर्षीय आमिर ने पाकिस्तान के लिए 36 टेस्ट खेलकर 119 विकेट अपने नाम किए हैं। अपने इस छोटे से करियर में उन्होंने लाल गेंद से एक पारी में 5 बार 5 विकेट अपने नाम किए। एक पारी में आमिर की सर्वश्रेष्ठ बोलिंग 44 रन देकर 6 विकेट है। इस लेफ्टआर्म फास्ट बोलर ने श्रीलंका के खिलाफ साल 2009 में गॉल टेस्ट से अपने टेस्ट करियर का आगाज किया था। उन्होंने इसी साल जनवरी 2019 में जोहानिसबर्ग में साउथ अफ्रीका के खिलाफ अपना अंतिम टेस्ट मैच खेला।
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *