पाकिस्‍तान ने समझौता एक्‍सप्रेस ट्रेन रोकी, कई यात्री लाहौर में फंसे

इस्‍लामाबाद। सप्ताह में दो बार लाहौर से दिल्ली आने वाली समझौता एक्सप्रेस ट्रेन को फ़िलहाल रोक दिया गया है. भारत और पाकिस्तान के बीच जारी तनाव का असर दोनों देशों के बीच चलने वाली ट्रेन सेवा पर पड़ा है.
पाकिस्तान सरकार ने इसकी पुष्टि की है कि दोनों देशों के बीच तनाव के कारण फिलहाल अस्थाई रूप से समझौता एक्सप्रेस को रोक दिया गया है.
पाकिस्तानी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता का कहना है, “गुरुवार को ट्रेन नहीं चलेगी. भारत और पाकिस्तान के बीच सुरक्षा स्थिति बेहतर होने पर ट्रेन फिर से चलने लगी.” समझौता एक्‍सप्रेस के साथ-साथ अब दोस्ती बस सेवा का भविष्य भी स्पष्ट नहीं है.
इस संबंध में लाहौर के स्टेशन मास्टर ने कहा है कि अगला आदेश ना मिलने तक लाहौर से समझौता एक्सप्रेस नहीं चलेगी.
उनका कहना है कि ट्रेन रद्द होने के कारण लाहौर से भारत आने वाले कई यात्री लाहौर रेलवे स्टेशन में फंस गए हैं. वहीं भारत में पड़ने वाले अटारी में भी कई यात्री फंस गए हैं. लाहौर में फंसे यात्रियों को उम्मीद है कि भारत उनके लौटने के लिए जल्द उचित व्यवस्था कराएगा.
हालांकि ट्रेन रोकने का आदेश किस तरफ़ से आया है और क्यों, इस बारे में अब तक कोई पुख़्ता जानकारी नहीं है.
भारत और पाकिस्तान के स्टेशन अधिकारी इस बारे में बताते हैं कि दोनों ही तरफ़ से अधिकारी इसके लिए सीमा पार के अधिकारियों को दोषी बता रहे हैं.
भारत ने ट्रेन रोकने से किया इंकार
अटारी रेलवे स्टेशन मास्टर ए के गुप्ता कहते हैं कि यहां पर स्थिति सामान्य है.
उनका कहना है, “गुरुवार को दिल्ली से अटारी पहुंचने वाली समझौता एक्सप्रेस अपने सही समय पर अटारी पहुंची है. लेकिन सवेरे हमें वाघा सीमा से जानकारी मिली है कि दूसरी तरफ़ से समझौता एक्सप्रेस किसी कारण से कैंसल कर दी गई है.”
“इस ट्रेन में क़रीब 40 यात्री पाकिस्तान से हैं. अब यहां से सड़क के रास्ते पाकिस्तान भेजने के लिए व्यवस्था की जा रही है. आदेश मिलने पर तुरंत पालन किया जाएगा.”
बुधवार को इस संबंध में रेलमंत्री पीयूष गोयल ने कहा था कि समझौता एक्सप्रेस दिल्ली के अटारी तक सामान्य तौर पर जाएगी.
बुधवार को आंध्र प्रदेश के लिए नए रेलवे जोन की घोषणा के दौरा पूछे गए एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा, “समझौता एक्सप्रेस का संचालन रोके जाने के बारे में किसी तरह के आधिकारिक निर्देश नहीं मिले हैं.”
समझौता एक्सप्रेस भारत और पाकिस्तान के बीच शिमला समझौते के बाद जून, 1976 में शुरू की गई थी.
साल 2001 में संसद पर हमले के बाद यह ट्रेन सेवा रोक दी गई थी लेकिन 2004 में इसे फिर शुरू किया गया.
-BBC

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »