पाकिस्‍तान ने संयुक्त राष्ट्र में उठाया कश्‍मीर का मुद्दा तो भारत ने बताया अप्रसांगिक

पाकिस्तान ने एक बार संयुक्त राष्ट्र संघ में कश्मीर में कथित मानवाधिकार उल्लंघन का मामला उठाया है। पाकिस्तान ने संयुक्त राष्ट्र की सूचना समिति के सामने कश्मीर के मुद्दे को उठाया तो भारत की आपत्ति भी सामने आ गई है। भारत ने कहा है कि यह मामला इन्फॉर्मेशन कमेटी के लिए अप्रासंगिक है। इससे पहले बुधवार को कमेटी ऑन इन्फॉर्मेशन के सेशन को संबोधित करते हुए पाकिस्तान के डेलिगेट मसूद अनवर ने इस मुद्दे को उठाया था। उन्‍होंने आरोप लगाया कि कश्मीर के लोगों के मानवाधिकारों का उल्लंघन किया जा रहा है।
मसूद अनवर ने कहा कि, ‘आज जिस दुनिया में हम रह रहे हैं, वह संघर्ष और विवादों से घिरी है। हालांकि हम आतंकवाद और चरमपंथ से लड़ने में एकजुटता बरकरार रखते हैं। इन दूषित विचारधाराओं का विरोध करना जरूरी है।’
उन्होंने कहा कि संयुक्त राष्ट्र का पब्लिक इन्फॉर्मेशन डिपार्टमेंट (डीपीआई) तनाव दूर करने और अंतरधार्मिक समरसता को बहाल करने की दिशा में महत्वपूर्ण भूमिका अदा कर सकता है।
मसूद अनवर ने डीपीआई से उन जगहों को तवज्जो देने की प्रार्थना की जहां कथित तौर पर मानवाधिकारों का उल्लंघन हो रहा है। इस क्रम में अनवर ने रोहिंग्या, कश्मीर और फलीस्तीन का जिक्र किया।
भारत ने कश्मीर के संबंध में अनवर के संदर्भों पर कड़ी आपत्ति जताते हुए कहा कि उनकी यह बात कमेटी के कामों के लिहाज से अप्रासंगिक है।
संयुक्त में भारत मिशन के मंत्री एस श्रीनिवास प्रसाद ने इसे समिति के अजेंडे से अलग दूसरे मुद्दे पर ध्यान भटकाने की कवायद बताया। उन्होंने कहा कि हम इन टिप्पणियों को पूरी तरह खारिज करते हैं क्योंकि इनकी समिति के काम में कोई प्रासंगिकता नहीं है। प्रसाद ने आगे यह भी जोड़ा कि भारत सभी तरह के आतंकवाद का विरोध करता है और आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई में देशों के सहयोग को आवश्यक मानता है।
-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »