पाकिस्‍तान ने अब इस्लामिक कार्ड खेला, OIC के बहिष्‍कार का ऐलान

इस्‍लामाबाद। पुलवामा हमले के बाद कूटनीतिक स्तर पर दुनिया में अलग-थलग पड़ चुके पाकिस्तान ने अब इस्लामिक कार्ड खेला है। पाकिस्तान ने मुस्लिम देशों की बहुलता वाले इस्लामिक सहयोग संगठन OIC द्वारा भारतीय विदेश मंत्री सुषमा स्वराज को निमंत्रित किए जाने पर उसका बहिष्कार करने का एलान किया है।
पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने बुधवार को यह जानकारी दी। उन्होंने कहा कि यूनाइटेड अरब अमीरात (यूएई) के विदेश मंत्री को फोन कर उन्होंने बता दिया है कि सुषमा स्वराज के बैठक में आने पर वह उसमें शामिल नहीं होंगे। एक और दो मार्च को आबू धामी में होने वाली OIC की बैठक में पहली बार स्वराज को ‘गेस्ट ऑफ ऑनर’ के तौर पर आमंत्रित किया गया है।
कुरैशी पाकिस्तान के इस्लामिक देश होने की दुहाई देकर ओआईसी को यह धमकी दे रहे हैं कि वह सुषमा स्वराज को नहीं बुलाए। उन्होंने यूएई के विदेश मंत्री के साथ ही तुर्की के विदेश मंत्री मेवलुत काउसोगलू से भी बात की है। काउसोगलू से बातचीत में कुरैशी ने कहा कि भारत ने ओआईसी के संस्थापक सदस्य देश पाकिस्तान पर हमला किया है। कुरैशी का दावा है कि तुर्की के विदेश मंत्री ने भी कहा है कि ओआईसी की बैठक में स्वराज को बुलाने का कोई मतलब नहीं है।
कुरैशी के मुताबिक उन्होंने यूएई के विदेश मंत्री से साफ कह दिया है कि अगर सुषमा स्वराज आती हैं तो वह बैठक में शामिल नहीं होंगे। कुरैशी ने मंगलवार को भी यूएई के विदेश मंत्री से फोन कर स्वराज को बुलाने पर अपनी आपत्ति जताई थी लेकिन न तो यूएई की तरफ से और न ही ओआईसी की तरफ से ही कुरैशी के बयान पर कोई प्रतिक्रिया दी है। मंगलवार को ओआईसी ने दोनों देशों से संयम बरतने की अपील की थी और तनाव कम करने के लिए कदम उठाने को कहा था। ओआईसी का गठन 1969 में हुआ था। यह 57 देशों का संगठन है, जिसमें 40 मुस्लिम बहुल देश शामिल हैं।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »