सूफी दरगाह पर आतंकी हमले के बाद पाकिस्‍तान में 37 आतंकी मारे गए

Pakistan killed 37 militants After the terrorist attack on the Sufi shrine
सूफी दरगाह पर आतंकी हमले के बाद पाकिस्‍तान में 37 आतंकी मारे गए

इस्लामाबाद। सूफी दरगाह पर हुए आतंकी हमले में 70 से ज्यादा लोगों की मौत के बाद पाकिस्तान ने पूरे देश में आतंकियों के खिलाफ बड़े पैमाने पर अभियान छेड़ दिया है। सरकार के एक अधिकारी ने बताया कि विभिन्न शहरों में दर्जनों संदिग्धों को गिरफ्तार किया गया है। कई जगहों पर मुठभेड़ में 37 आतंकवादियों को मार गिराया गया है। अधिकारी के मुताबिक आने वाले कुछ दिनों तक यह अभियान जारी रहेगा।
पैरामिलिटरी रेंजर्स की ओर से जारी बयान में बताया गया कि सिंध प्रांत में चलाए गए ऑपरेशंस में कम से कम 18 आतंकियों को ढेर किया गया। पुलिस के मुताबिक खैबर पख्तूनख्वा प्रांत में भी 11 आतंकी मारे गए। पेशावर के रेगी इलाके में भी एक सर्च ऑपरेशन में तीन आतंकियों को मार गिराया गया। इनके पास से भारी तादाद में हथियार और गोला बारूद बरामद किए गए हैं।
सूत्रों ने बताया कि अफगानिस्तान सीमा से सटे एक चेकपोस्ट पर भी आतंकियों के हमले के बाद जवाबी कार्यवाही में चार आतंकी मार गिराए गए।
बता दें कि सिंध प्रांत के सहवान कस्बे में स्थित लाल शाहबाज कलंदर दरगाह के भीतर शुक्रवार रात एक आत्मघाती हमलावर द्वारा किए गए विस्फोट में 70 से अधिक लोगों की मौत हो गई और 150 से अधिक लोग घायल हो गए। आतंकी संगठन आईएसआईएस ने इस हमले की जिम्मेदारी ली थी। सूफी दरगाह पर यह हमला उस वक्त हुआ है जब एक दिन पहले ही पाकिस्तान सरकार ने देश में आतंकी हमलों में हुई बढ़ोत्तरी को देखते हुए उन सभी तत्वों को ‘मिटाने’ का संकल्प लिया था जो देश में शांति एवं सुरक्षा पर खतरा पैदा कर रहे हैं।
अफगानिस्तान को दी मोस्ट वॉन्टेड आतंकियों की लिस्ट
आतंकी हमले से तिलिमिलाए पाकिस्तान ने शुक्रवार को अफगानिस्तान के दूतावास के अधिकारियों को रावलपिंडी स्थित जनरल हेडक्वॉटर्स बुलाया। साथ ही अफगानिस्तान की जमीन का इस्तेमाल करके पाकिस्तान के खिलाफ हमलों की साजिश रचे जाने का आरोप लगाते हुए विरोध जताया। अफगान अधिकारियों को पाकिस्तानी आर्मी की ओर से 76 मोस्ट वॉन्टेड आतंकियों की लिस्ट सौंपी गई। बाद में इंटर सर्विसेज पब्लिक रिलेशंस के मेजर जनरल आसिफ गफूर ने एक ट्वीट करके इसकी पुष्टि की।
गफूर के मुताबिक अफगानिस्तान से कहा गया है कि वह या तो आतंकियों के खिलाफ ‘तत्काल ऐक्शन’ ले या फिर उन आतंकियों को उन्हें सौंप दे।
-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *