जम्मू एवं कश्मीर में समस्या की मूल जड़ है पाकिस्तान: गृहमंत्री राजनाथ सिंह

नई दिल्ली। जम्मू एवं कश्मीर में समस्या की मूल जड़ पाकिस्तान ही है। पाकिस्तान ही समस्याएं उत्पन्न कर रहा है। पाकिस्तान लगातार आतंकवाद को बढ़ावा देकर उन्हें भारत भेज रहा है। यह बात केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने शुक्रवार को कही। साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि अब राज्य में आतंकवादी घटनाओं में पहले से कमी आई है। यह सब भाजपा सरकार के कार्यकाल में हुआ है। भाजपा सरकार के साथ पिछली सरकारों ने हमेशा ही पाकिस्तान के साथ रिश्ते सुधारने की कोशिश की, लेकिन पड़ोसी देश के साथ कोई मजबूरी है। इस कारण अतर्राष्ट्रीय समुदाय द्वारा कड़ी आलोचना के बावजूद वह इस मुद्दे पर कुछ भी करने में असफल रहा है।
16वें हिंदुस्तान टाइम्स लीडरशिप समिट में राजनाथ ने कहा कि उन्हें उम्मीद है कि अंतर्राष्ट्रीय रूप से अलग-थलग होने के बाद पाकिस्तान अब कुछ मामलों पर अपने रास्ते बदल लेगा। आतंकवाद को मानवता के विरुद्ध अपराध बताते हुए राजनाथ ने कहा कि जम्मू-कश्मीर में अब हालात बदल गए हैं। आतंकवाद का किसी धर्म या जाति से संबंध नहीं होता है। कट्टरता को बढ़ावा नहीं देने के लिए उन्होंने भारत के मुस्लिम समुदाय की प्रशंसा की।
अंतर्राष्ट्रीय सीमा से सटे जम्मू के रामगढ़ सेक्टर में 18 सितंबर को बीएसएफ के हेड कांस्टेबल नरेंद्र सिंह की मौत पर राजनाथ ने कहा कि हमारी सेना ने इस मुद्दे पर कार्यवाही की है। मैं पहले भी कह चुका हूं और यह बेतुका बयान नहीं है। कुछ हुआ था, इसीलिए मैं ऐसा कह रहा हूं। मैं यह सार्वजनिक रूप से नहीं कह सकता, क्योंकि इससे अंतर्राष्ट्रीय समुदाय में गलत संदेश जाएगा। मैं सुरक्षा बलों से हमेशा कहता हूं कि उन्हें पाकिस्तान के खिलाफ कभी गोलीबारी की शुरुआत नहीं करनी है, लेकिन अगर पहले वे हम पर गोलीबारी करें तो हमें विचार नहीं करना और गोलियों की गिनती भी नहीं करनी है।
उन्होंने कहा कि राज्य में विधानसभा चुनाव में किसी भी दल को स्पष्ट बहुमत नहीं मिलने पर हमने जनादेश का सम्मान करते हुए पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (पीडीपी) के साथ गठबंधन कर सरकार बनाई। गृहमंत्री ने गठबंधन सरकार के टूटने के बाद पत्थरबाजों के दोबारा आने की बात को नकारते हुए कहा कि पत्थरबाज कभी अपने घरों में नहीं बैठते। जम्मू एवं कश्मीर में हमारे सरकार बनाने के बाद भी पत्थरबाजी की घटनाएं जारी रहीं और यह कई सालों से हो रही हैं।
उन्होंने कहा कि जम्मू एवं कश्मीर में स्थिति और बेहतर होनी चाहिए। सीमा पर पूर्ण सुरक्षा के मुद्दे पर उन्होंने कहा कि सुरक्षा सुधारने के लिए सरकार ने कुछ परियोजनाएं शुरू की हैं।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »