पाकिस्तान का दावा: भारत ने बनाई सीक्रेट Nuclear City, साउथ एशिया में खतरा

Pakistan claims: India created Secret Nuclear City, South Asia at risk
पाकिस्तान का दावा: भारत ने बनाई सीक्रेट Nuclear City, साउथ एशिया में खतरा

इस्लामाबाद। पाकिस्तान ने दावा किया है कि भारत ने एक सीक्रेट Nuclear City बनाई है, जिससे साउथ एशिया में पॉवर के स्ट्रैटजिक बैलेंस को खतरा है। पाक विदेश मंत्रालय के स्पोक्सपर्सन नफीस जकारिया ने इसके अलावा यह भी कहा कि भारत ने परमाणु हथियारों का जखीरा जमा किया है।
डॉन की रिपोर्ट के मुताबिक नफीस जकारिया ने गुरुवार को वीकली ब्रीफिंग में यह दावा किया।
जकारिया ने कहा, “भारत ने इंटर-कॉन्टिनेंटल मिसाइल्स का टेस्ट भी किया है।”
“भारत के इन कदमों से साउथ एशिया के पॉवर बैलेंस पर असर पड़ रहा है।”
“जबकि पाकिस्तान, भारत समेत अपने सभी पड़ोसी देशों के साथ पीस प्रिंसिपल्स को लेकर कमिटेड है।”
भारत अपनी कोशिशों में फेल
जकारिया ने यह भी कहा, “पाकिस्तान को अलग-थलग करने की भारत की कोशिशों का खुलासा हो चुका है। भारत अपने मंसूबे को पूरा करने में फेल हो गया है।”
“भारत सरकार को शांति के लिए पाकिस्तान की तरफ से उठाए गए कदमों का सपोर्ट करना चाहिए।”
356 से 492 न्यूक्लियर बम बना सकता है भारत
इंस्टीट्यूट ऑफ स्ट्रैटजिक स्टडीज इस्लामाबाद की तरफ से पिछले साल एक स्टडी पब्लिश की गई थी।
जिसमें कहा गया था कि भारत के पास 356 से 492 न्यूक्लियर बम बनाने का पूरा मैटेरियल और टेक्निकल कैपेसिटी है।
‘इंडियन अनसेफगार्ड न्यूक्लियर प्रोग्राम’ नाम से यह स्टडी स्ट्रैटजिक स्टडीज इस्लामाबाद (आईएसएसआई) ने जारी की थी।
स्टडी का मकसद भारत के जटिल न्यूक्लियर प्रोग्राम की सही हिस्ट्री, साइज और कैपिबिलिटी की समझ मुहैया कराना था।
जरूरत पड़ने पर मिलिट्री को दिया जा सकता है जखीरा
पाक ने इस हफ्ते के शुरू में कहा था कि भारत अपने पूरे सिविल न्यूक्लियर प्रोग्राम को इंटरनेशनल एटॉमिक एनर्जी कमीशन के सुरक्षा उपायों के तहत लाना चाहता है।
पाक विदेश मंत्रालय में डीजी डिसआर्मामेंट (Disarmament) कामरान अख्तर ने कहा, “भारत के लिए यह जरूरी नहीं है कि वह अपने रियेक्टरों को सुरक्षा छतरी के तहत लाए। इसलिए यह डर बरकरार है कि इनका इस्तेमाल गुप्त रूप से प्लूटोनियम के प्रोडक्शन में किया गया होगा।”
“इस तरह इकट्ठा किए गए जखीरे को बाद में जरूरत पड़ने पर मिलिट्री को दिया जा सकता है।”
हथियारों की खरीद में भारत दूसरा सबसे बड़ा देश
भारत ने पिछले कुछ सालों में 6,31,700 करोड़ रुपए (100 बिलियन USD) के हथियार खरीदे हैं।
डॉन के मुताबिक भारत ने 80% हथियार पाकिस्तान को टारगेट करने के लिए खरीदे हैं।
पाकिस्तान की मिलिट्री का कहना है कि इंडियन आर्मी ‘खरीददारी की होड़’ में ऐसा कर रही है। बता दें कि भारत आर्म्स इम्पोर्ट के मामले में दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा देश है।
-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *