पाकिस्‍तान: सुहागरात का वीडियो शूट कर लड़कियों को ब्लैकमेल करने वाला गिरोह पकड़ा

मीरपुर (पाकिस्तान)। बड़ी संख्या में पाकिस्तानी लड़कियों ने चौंका देने वाला खुलासा किया है। इन लड़कियों ने बताया कि उन्हें ब्रिटिश-पाकिस्तानी नागरिकों से शादी के लिए फुसलाया जाता था और बाद में उनके निकाह की सुहागरात का वीडियो शूट कर उन्हें ब्लैकमेल किया जाता था।
द नेशन की रिपोर्ट के अनुसार बड़ी संख्या में पीड़ितों ने इस तरह की बात कही है। बताया जा रहा है कि पाकिस्तान के मीरपुर इलाके में ऐसे कई मामले सामने आए हैं। पीड़ितों ने बताया कि ब्रिटेन में रहने वाले पाकिस्तानी युवक उनसे शादी के बाद अच्छी जिंदगी देने का वादा करते थे। पीड़ितों के परिवारों को भी इस तरह के झांसे में फंसाया जाता था। मीरपुर के कश्मीर प्रेस क्लब में पीड़ितों ने यह चौंका देने वाला खुलासा किया है।
प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान बताया गया कि ब्रिटिश-पाकिस्तानी गैंग का मुखिया मुमताज जिसे तेजा पहलवान के नाम से भी जाना जाता है, युवा लड़कियों को अपने निशाने पर लेता था। मुमताज पर कई लड़कियों से शारीरिक संबंध बनाने का आरोप है। मुमताज ने इन सब लड़कियों से शादी के बाद अच्छी जिंदगी देने का वादा किया था।
बताया जा रहा है कि 15 से ज्यादा लड़कियों को इस गैंग ने निशाना बनाया है। गैंग के लोग लड़कियों से शादी करते थे और लड़कियों के साथ अन्तरंग वीडियो शूट करते थे। इसके बाद इन वीडियो को ऑनलाइन कर देने की धमकी दी जाती थी।
इनमें से ज्यादातर युवक अपनी पत्नियों को शादी के बाद साथ में ले जाने से भी मना कर देते थे। एक समय में ये कई लड़कियों से शादी करते थे। इनमें से यदि कोई तलाक की मांग करती है तो उस पर चोरी का आरोप लगा दिया जाता है।
गैंग के मुमताज ने 7 लड़कियों से शादी की है, अनवर ने पांच और मुहम्मद ने तीन। शादी के इस फर्जीवाड़े में मुमताज के परिवार के दो लोग भी शामिल थे। कई साल तक प्रताड़ित होने और यौन उत्पीड़न के बाद लड़कियों ने इस बात का खुलासा करने का फैसला लिया।
बताया जा रहा है कि आरोपी फिलहाल फरार हैं। पीड़ितों ने बताया कि मुमताज ड्रग के धंधे में भी शामिल है। इसमें उसका साथ उसके रिश्तेदार मुहम्मद अली और अंजार अली देते हैं। लड़कियों ने बताया कि उन्हें भी ड्रग के गैर-कानूनी धंधे में उतरने के लिए दबाव बनाया जाता था।
-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »