ISI से ट्रेनिंग प्राप्‍त पाक आतंकी AK-47 के साथ दिल्‍ली में गिरफ्तार

दिल्ली पुलिस ने त्योहारों से पहले आतंकी हमले की बड़ी साजिश को नाकाम कर दिया है। पुलिस की स्पेशल सेल ने लक्ष्मी नगर के रमेश पार्क से पाकिस्तानी आतंकी को गिरफ्तार किया है। यह आतंकी फर्जी आईडी के साथ दिल्ली में रह रहा था। गिरफ्तार आतंकी के पास से एक AK-47 राइफल के साथ एक एक्स्ट्रा मैगजीन व 60 राउंड गोली, एक हैंड ग्रेनेड, 50 राउंड गोली के साथ 2 अत्याधुनिक पिस्टल जब्त की गई है।
ISI ने दी थी हमले की ट्रेनिंग
दिल्ली में गिरफ्तार हुए आतंकी की पहचान मो. अशरफ अली के रूप में हुई है। यह पाकिस्तान के पंजाब प्रांत का रहने वाला है। खबर है कि यह नेपाल के रास्ते भारत पहुंचा था। यह आतंकी दिल्ली में अली अहमद नूरी के रूप में नाम बदल कर रह रहा था। बताया जा रहा है कि आतंकी अशरफ अली को आईएसआई ने दिल्ली समेत भारत के अन्य हिस्सो में हमले के लिए ट्रेनिंग दी थी। आतंकी के पास से फर्जी भारतीय पासपोर्ट भी बरामद किया गया है।
तीन दिन पहले दिल्ली पुलिस ने किया था अलर्ट
अभी तीन दिन पहले ही दिल्ली में फेस्टिव सीजन के दौरान आतंकी हमले के मद्देनजर दिल्ली पुलिस ने हाई अलर्ट किया था। दिल्ली पुलिस को खुफिया सूत्रों से जानकारी मिली थी कि फेस्टिव सीजन में आतंकवादी हमला हो सकता है। दिल्ली पुलिस कमिश्नर राकेश अस्थाना ने शनिवार को पुलिस के टॉप अधिकारियों के साथ बैठक भी की थी। आतंकी हमले का इनपुट के मिलने के बाद अलर्ट भी किया था।
लक्ष्मी नगर में यूं ही नहीं बनाया था ठिकाना
वह पाक से भारत पहुंचा। उसने नाम बदला। दिल्ली में 3 ठिकाने चुने। इसमें से एक ठिकाना लक्ष्मी नगर को बनाया। अशरफ उर्फ अली अहमद नूरी के मंसूबे बेहद खतरनाक थे। दिल्ली में दशहरे-दिवाली के जश्न को मातम में बदलने की वह पूरी प्लानिंग करके आया था। उसके पाकिस्तानी आकाओं ने इसके लिए उसे पूरी ट्रेनिंग दी थी। AK-47 जैसा घातक हथियार और ग्रेनेड का मिलना यह बताता है। वह तो शुक्र रहा दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल का जो पाक की इस साजिश को लेकर मुस्तैद थी और समय रहते उसने अशरफ को धर दबोचा।
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *