पाक की ह‍िमाकत, राष्ट्रपति कोविंद के ल‍िए Airspace खोलने से मना किया

नई दिल्ली। कश्मीर पर बौखलाए पाकिस्तान ने एक और नया पैंतरा चला है, पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने शनिवार को कहा कि राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद की आइसलैंड की यात्रा के लिए उनके Airspace से विमान को गुजरने देने संबंधी भारत के अनुरोध को अस्वीकार कर दिया गया है।

भारत सरकार द्वारा जम्मू-कश्मीर से Article 370 हटाए जाने के बाद पाकिस्तान पूरी तरह से बौखला गया है। वह हर कदम पर भारत को गीदड़ भभकी दे रहा है। साथ ही पाकिस्तान ने भारतीय राजनयिक को वापस भेज दिया और द्विपक्षीय व्यापार भी खत्म कर दिया। Article 370 का हटना पाकिस्तान में पनाह लिए हुए आतंकवाद के लिए बड़ी चुनौती पैदा हुई, जहां बस पाकिस्तान ये चाहता है कि भारत अपना ये फैसला वापस ले ले, लेकिन UN समेत तमाम बड़ों देशों से मदद मांगने पर भी उसका यह सपना पूरा ना हो सका।

पाकिस्तान अपनी बौखलाहट के मारे ना जाने क्या-क्या बयान दे रहा है। अब जहां इस बार पाकिस्तान ने फिर एक नापाक हरकत कर दोनों देशों के रिश्तों में तनाव बढ़ाने का काम किया है। बता दें कि इस बार पाकिस्तान ने भारत के राष्ट्रपति के लिए अपना Airspace नहीं खोलने का फैसला लिया है। जानकारी के मुताबिक, राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को आइसलैंड जाने के लिए पाकिस्तान के हवाई क्षेत्र में प्रवेश करना था।

राष्ट्रपति कोविंद की सोमवार से आइसलैंड, स्विट्जरलैंड और स्लोवेनिया की यात्रा शुरू होगी। इस दौरान वह भारत की ‘राष्ट्रीय चिंताओं’ से इन देशों के शीर्ष नेतृत्व को अवगत करा सकते हैं। मंत्री ने सरकारी प्रसारक पीटीवी को बताया कि कश्मीर में तनावपूर्ण स्थिति के मद्देनजर प्रधानमंत्री इमरान खान ने यह निर्णय लिया है।

कश्मीर में पुलवामा आतंकवादी हमले में सीआरपीएफ के 40 जवानों के शहीद होने पर भारतीय वायुसेना के लड़ाकू विमानों ने बालाकोट में जैश-ए-मोहम्मद के आतंकवादी शिविरों को नष्ट किया था, जिसके बाद पाकिस्तान ने 26 फरवरी को अपने हवाई क्षेत्र को पूरी तरह से बंद कर दिया था।

हालांकि मार्च में उसने अपने हवाई क्षेत्र को आंशिक रूप से खोल दिया था लेकिन भारतीय उड़ानों के लिए इसे प्रतिबंधित रखा था।

– एजेंसी

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *