भारत में ध्वस्त हो रहा है पाक समर्थित आतंकवाद का मॉडल: रक्षा मंत्री

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा है कि पाकिस्तान को समझ आ गया है कि चरमपंथ को बढ़ावा देने का उनका मॉडल भारत में नाकाम हो रहा है.
राजनाथ सिंह ने दिल्ली में ‘राष्ट्रीय सुरक्षा’ विषय पर एक कार्यक्रम में कहा, “पाकिस्तान समर्थित आतंकवाद का मॉडल भारत में ध्वस्त हो रहा है. हाल के कुछ वर्षों में उन्होंने सीमा पर सीज़फायर उल्लंघन बढ़ा दिए थे. सुरक्षाबलों से उन्हें हमेशा मुँहतोड़ जवाब मिला. पाकिस्तान को समझ आने लगा है कि सीज़फायर उल्लंघन से भी उनको कोई खास लाभ नहीं मिलने वाला है.”
उन्होंने बताया कि “भारत और पाकिस्तान के बीच में संघर्ष विराम समझौता फ़रवरी में हुआ था. हम इस वक़्त आपसी विश्वास की कमी के कारण ‘वेट एंड वॉच’ की मुद्रा में हैं.हालिया संघर्ष विराम समझौते के बाद सीमा के दोनों ओर कोई भी संघर्ष विराम का उल्लंघन नहीं हुआ है.’
उन्होंने साथ ही कहा कि कश्मीर से बहुत जल्द चरमपंथ का ख़ात्मा हो जाएगा.
राजनाथ सिंह ने कहा, “मेरा मानना है कि कश्मीर में बचा हुआ आतंकवाद भी समाप्त होगा. मेरा यह विश्वास इसलिए है क्योंकि अब तक अलगाववादी ताक़तें जो अनुच्छेद 370 और 35ए से मज़बूती पाती थीं वो अनुच्छेद अब समाप्त हो चुका है.”
उन्होंने कहा कि स्वतंत्रता के बाद से ही भारत विरोधी बलों ने सीमा पर या सीमा के ज़रिए देश में अस्थिरता पैदा करने का माहौल बनाया है, इस दिशा में पाकिस्तान की धरती से बहुत सारी कोशिशें की जाती रही हैं.
लद्दाख़ में गलवान घाटी की घटना का ज़िक्र करते हुए राजनाथ सिंह ने कहा कि ‘गलवान की घटना को एक साल का समय बीत चुका है, भारतीय सेना द्वारा दिखाई गई वीरता और संयम अतुलनीय है. भविष्य की पीढ़ियां बहादुर जवानों पर गर्व करेंगी.’
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *