राजीव एकेडमी में Angular Technology पर हुई कार्यशाला

टेक्निकस ऐरा के टेक्निकल आर्कीटेक्ट विजय राना ने राजीव एकेडमी में Angular Technology पर दी नई जानकारियां

मथुरा। राजीव एकेडमी फाॅर टेक्नोलाॅजी एण्ड मैनेजमेंट के एमसीए विभाग में कार्यशाला का आयोजन हुआ। जिसमें एमसीए प्रथम व द्वितीय वर्ष के छात्र-छात्राआंे ने बढ़-चढ़कर भाग लिया। कार्यशाला के मुख्य अतिथि और विषय विशेषज्ञ ने छात्र-छात्राओं के साथ ज्ञानपरक विचारों का आदान प्रदान किया। उन्होंने छात्र-छात्राओं की जिज्ञासाओं को भी शांत किया। कार्यशाला से पूर्व राजीव एकेडमी के निदेशक डा. अमर कुमार सक्सेना ने उनका बुके देकर स्वागत किया।

आरके एजुकेशन हब के चैयरमेन डा. रामकिशोर अग्रवाल, वाइस चैयरमेन पंकज अग्रवाल, एमडी मनोज अग्रवाल बोले-विशिष्ट ज्ञान सहेजे विद्यार्थी

कार्यशाला में गुरुग्राम से आए विषय विशेषज्ञ विजय राना (एमसीए में गोल्ड मेडलिस्ट) हैं। वह वर्तमान में गुरूग्राम स्थित कम्पनी टेक्निकस ऐरा में टेक्निकल आर्कीटेक्ट हैं। छात्र-छात्राओं ने उनसे इस विषय पर ढेरों सवाल किये। श्रीराना ने बताया कि ईसीएमए स्क्रिप्ट तैयार करते समय इसकी बड़ी भूमिका रहती है। उन्हांेने कार्यशाला में फ्रेमवर्क, माॅड्यूलर प्रोग्रामिंग आदि पर विस्तृत रूप से बताया। उन्होंने छात्र-छात्राआंे की जिज्ञासा शांत की। एंग्युलर तकनीक के सभी घटकों पर गहन विचार मंथन किया। कार्यशाला में भाग लेने वाले छात्र-छात्राओं ने वर्तमान आईटी के युग में इस टाॅपिक पर सम्पन्न कार्यशाला की सराहना की। उन्होंने कहा कि इस तकनीक के अन्य व्यावहारिक पहलुओं के बारे में विशेषज्ञ से व्यक्तिगत मुलाकात करके ज्ञानार्जन करके काफी लाभ प्राप्त हुआ है।

आरके एजुकेशन हब के चैयरमेन डा. रामकिशोर अग्रवाल, वाइस चैयरमेन पंकज अग्रवाल और एमडी मनोज अग्रवाल ने कहा कि राजीव एकेडमी में सैद्वान्तिक अध्यापन के साथ-साथ प्रयोगात्मक अध्यापन पर खूब ध्यान दिया जाता है। साथ ही साथ विशिष्ट ज्ञान या जानकारी प्रदान करने के लिए कार्यशालाओं का भी आयोजन किया जाता है। इसी से इस संस्थान के ज्यादा से ज्यादा बच्चों को प्लेसमेंट हो जाता है। निदेशक अमर कुमार सक्सेना ने कहा कि छात्र-छात्राआंे को ऐसी सेमीनार से पूरा लाभ लेना चाहिए। उन्हें खुद के ज्ञान को अपडेट करना चाहिए। जिससे अध्ययन में परेशानी न हो। इस अवसर पर एमसीए विभागाध्यक्ष समेत शिक्षकगण भी उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »