Gyandeep में हिन्दी सप्ताह के समापन पर कार्यक्रम आयोजित

मथुरा। गोवर्धन रोड स्थित Gyandeep शिक्षा भारती में हिन्दी सप्ताह के समापन पर आयोजित कार्यक्रम का शुभारम्भ ‘जय हिन्दी जय नागरी‘ के तुमुल उद्घोष से हुआ। छात्रा रितु चौधरी ने ‘कोई तो हिन्दी की बात करो रे‘ काव्य – पाठ द्वारा हिन्दी के अधिकाधिक प्रयोग का आह्वान किया।

समारोह में Gyandeep के संस्थापक सचिव पद्मश्री मोहन स्वरूप भाटिया ने कहा कि यह अत्यन्त दुर्भाग्यपूर्ण है कि स्वतंत्रता प्राप्ति के 69 वर्श के पश्‍चात भी हिन्दी सरकारी कामकाज की राजभाषा के रूप में सिमट कर रह गई है।

उन्होंने कहा कि हिन्दी उत्तर से दक्षिण और पूर्व से पश्‍चिम तक समझी और बोली जाती है। ऐसी कोई अन्य भाषा नहीं है जो राश्ट्रभाषा के रूप में मान्य हो सके। आज संसार के 14 विष्व – विद्यालयों में हिन्दी पढ़ाई जाती है। हिन्दी का साहित्य जितना समृद्ध है उतना किसी अन्य भाशा का साहित्य समृद्ध नहीं है।

समापन समारोह में Gyandeep प्रधानाचार्या श्रीमती प्रीति भाटिया ने हिन्दी सप्ताह के अन्तर्गत आयोजित प्रतियोगिताओं के सफल प्रतियोगियों को पुरस्कृत किया।
आयोजन की सफलता में धीरेन्द्र सिंह, सुशमा सक्सैना, अंजू शर्मा, नीलम आहूजा, आरती माहेश्‍वरी, रावी चतुर्वेदी आदि का सराहनीय योगदान रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »