के. डी. Hospital में 109 साल के महंत हृदयानंद का आपरेशन किया

मथुरा। बढ़ती उम्र में किसी भी प्रकार की सर्जरी को जोखिम भरा माना जाता है लेकिन यदि Hospital में व्यवस्थाएं उच्चस्तरीय हों तथा चिकित्सक काबिल हों, तो हर काम सम्भव है। ब्रज क्षेत्र के मथुरा जिले में संचालित के.डी. मेडिकल कालेज-Hospital एण्ड रिसर्च सेण्टर में हर सुविधा उपलब्ध है। यही वजह है कि अब यहां नवजात शिशु से लेकर वयोवृद्ध लोगों के भी सफल आपरेशन हो रहे हैं। 22 जून को यहां श्री किशोरी श्याम कुंज आश्रम, श्रीधाम वृंदावन, मथुरा के 109वर्षीय महंत श्री हृदयानंद दास जी बाबा का सफल आपरेशन हुआ है। अब महंत श्री हृदयानंद बिल्कुल स्वस्थ हैं तथा स्वयं ही खड़े हो जाते हैं।

ज्ञातव्य है कि श्री किशोरी श्याम कुंज आश्रम, श्रीधाम वृंदावन, मथुरा के 109 वर्षीय महंत श्री हृदयानंद दास जी बाबा 21 जून को गिर गए थे। गिरने से उन्हें कमर और पैर में गहरी चोट आई। कष्ट से कराहते बाबा को के.डी. मेडिकल कालेज-Hospital एण्ड रिसर्च सेण्टर लाया गया। जाने-माने हड्डी रोग विशेषज्ञ डा. अमन गोयल ने बाबा का एक्सरा और अन्य जांचें कराईं। प्रमुख जांचों और एक्सरा से पता चला कि बाबा के कूल्हे में फ्रैक्चर है, जिसका आपरेशन किया जाना ही समुचित निदान है। अंततः डा. अमन गोयल द्वारा डा. विक्रम शर्मा और निश्चेतना विशेषज्ञ डा. निझावन के सहयोग से लगभग दो घण्टे के प्रयासों के बाद महंत श्री हृदयानंद दास जी बाबा का सफल आपरेशन किया गया।

इस आपरेशन के विषय में डा. गोयल का कहना है कि बढ़ती उम्र में किसी भी प्रकार की सर्जरी जोखिमपूर्ण होती है लेकिन यदि मरीज में हिम्मत और हास्पिटल में सुविधाएं हों तो काम आसान हो जाता है। डा. गोयल का कहना है कि महंत श्री हृदयानंद बाबा के टूटे कूल्हे में आधुनिकतम तकनीक की टाइटेनियम राड डाली गई है, जिसके चलते वह अगले ही दिन चल सके। ब्रजवासियों के लिए सौभाग्य की बात है कि के.डी. मेडिकल कालेज-हास्पिटल एण्ड रिसर्च सेण्टर में उपचार की हर तरह की सुविधाएं उपलब्ध हैं।

आर.के. एज्यूकेशन हब के चेयरमैन डा. रामकिशोर अग्रवाल का कहना है कि ब्रज क्षेत्र के लोगों को उपचार के लिए परेशान न होना पड़े इसी उद्देश्य को लेकर के.डी. मेडिकल कालेज-हास्पिटल एण्ड रिसर्च सेण्टर को संचालित किया गया है। हमारा प्रयास है कि यह संस्थान सेवाभावना की एक नजीर स्थापित करे तथा उपचार के लिए यहां जो भी आए स्वस्थ होकर ही अपने घर जाए। प्रबंध निदेशक मनोज अग्रवाल और प्राचार्य डा. मंजू नवानी ने महंत श्री हृदयानंद बाबा की सफल सर्जरी के लिए डाक्टरों की टीम को बधाई दी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »