28 साल के बाद खुला अनंतनाग का हैवन सिनेमा हॉल

अनंतनाग। कश्मीर घाटी का सबसे ज्यादा संवेदनशील इलाका अनंतनाग है। यहां पर कई आंतकी हमले होते हैं। दहशत के बीच जी रहे लोगों के लिए खुशखबरी है, यहां के हैवन सिनेमा हॉल को आम लोगों के लिए खोला जा रहा है।
बड़े-बड़े लोहे के दरवाजों के अंदर बैठे सीआरपीएफ जवान। सामने स्क्रीन पर शाहिद कपूर अपनी बाइक पर आते हैं और श्रद्धा कपूर को लुभाने का प्रयास करते हैं। जोर-जोर से सीटियां बजने लगती हैं। यह सीन था आतंकवाद का गढ़ माना जाने वाला दक्षिण कश्मीर के अनंतनाग स्थित सिनेमा हॉल का। हैवन नाम का यह सिनेमा हॉल लगभग 28 साल के बाद खोला गया, जिससमें शाहिद कपूर की फिल्म बत्ती गुल मीटर चालू और जेपी दत्ता की चर्चित फिल्म पलटन चलाई गई।
घाटी के सबसे संवेदनशीन इलाकों में से एक अनंतनाग का हैवन सिनेमा हॉल 6 मार्च को खोला गया। इस हॉल के 70 एमएस स्क्रीन पर सीआरपीएफ हेडक्वॉर्टर के 40 बटालियन सैन्यकर्मियों ने फिल्म देखी। कश्मीर के हालात को देखते हुए एक सिनेमाघर का खुलना और उसमें फिल्म चलना बहुत बड़ी बात माना जा रहा है।
1989 में बना था हैवन
एक स्थानीय व्यवसायी की यह कॉमर्शियल बिल्डिंग थी। इसमें उन्होंने 1989 में सिनेमा हॉल हैवन खोला था। सिनेमा हॉल खुलने के दो साल बाद ही यहां एक ग्रेनेड हमला हुआ था, जिसके बाद इसे बंद कर दिया गया था। बताया जाता है कि सिनेमा हॉल बंद करने के लिए अल्लाह टाइगर नाम के आतंकी संगठन ने धमकी दी थी। उनका कहना था कि यह इस्लाम के खिलाफ है।
भावुक हुए लोग
सीआरपीएफ 40 बटालियन के कमांडेंट आशु शुक्ला ने कहा, ‘थिअटर्स के लिए यह भावुकता वाला क्षण है। हैवन कश्मीर का पर्यायवाची शब्द है और इसी को ध्यान में रखते हुए हॉल के मालिकों ने इसका नाम हैवन रखा था। यह बहुत ही शर्मनाक बात है कि हम फिल्म देखने के लिए दिल्ली जाते थे। हम लोगों ने दरवाजे साफ किए। लाइटिंग सिस्टम ठीक किया। टिकट विंडो पेंट किया। फिल्म बत्ती गुल मीटर चालू का पोस्टर लगाया और 28 साल बाद इस पहली फिल्म का प्रदर्शन हुआ। यह फिल्म यहां हिट हुई।’
जल्द ही आम लोग देख सकेंगे फिल्में
आखिरी बार यहां 1991 में फिल्म का प्रदर्शन हुआ था। यह फिल्म थी अमिताभ बच्चन की कालिया। हॉल में 525 सीटें हैं। सीआरपीएफ ने कहा कि अब वे प्रयास कर रहे हैं कि जल्द ही इस स्क्रीन को पब्लिक के लिए खोल दिया जाए। कश्मीर में कई ऐसे युवा हैं, जिन्होंने कभी सिनेमा हॉल नहीं देखा है।
कम रखेंगे टिकटों के रेट
सीआरपीएफ ने कहा कि हॉल पब्लिक के लिए खोला जाएगा और टिकट भी बहुत कम रेट पर रखी जाएंगी। योजना है कि टिकट की कीमत 30 से 50 रुपये के बीच रखी जाएं। फिल्म देखने वाले खलील ने कहा कि वह बहुत खुश हैं। उन्होंने हॉल में पलटन और बत्ती गुल मीटर चालू फिल्म दो बार यहां आकर देखी।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »