चैलेंजिंग है लिपस्टिक की ऑनलाइन शॉपिंग, जानें कुछ काम की बातें

ऑनलाइन शॉपिंग करना चीजें खरीदने का सबसे आसान तरीका है लेकिन जब बात लिपस्टिक की आती है तो सही कलर से लेकर ऑरिजनल प्रोडक्ट लेना मुश्किल भरा हो सकता है।
आज की भागदौड़ भरी जिंदगी में लोग कपड़ों से लेकर, जूते और यहां तक कि किराना तक ऑनलाइन मंगवाना पसंद करते हैं क्योंकि यह उनका काफी समय बचा देता है लेकिन जब बात लिपस्टिक की आती है तो इसकी शॉपिंग करना थोड़ा चैलेंजिंग हो सकता है। आपको ऑनलाइन लिपस्टिक लेने के दौरान परेशानी का सामना न करना पड़े, इसके लिए हम बता रहें हैं कुछ बेहद काम की बातें।
ध्यान से चुनें वेबसाइट
गूगल पर ‘buy lipstick online’ लिखेंगी तो दर्जनभर वेबसाइट्स का ऑप्शन दिख जाएगा, जिन पर एक से बढ़कर एक डिस्काउंट भी दिखाई देगा लेकिन इसके फेर में न पड़ें और ऐसी वेबसाइट को चुनें जो विश्वसनीय हो। अगर किसी तरह का डाउट हो तो ऐसी सहेली से सलाह लें जो ऑनलाइन मेकअप का सामान ऑर्डर करती हो।
कोड है जरूरी
हर लिपस्टिक के शेड का अलग कोड होता है और यह ब्रैंड के हिसाब से अलग-अलग होता है इसलिए अगर आपको अपनी फेवरिट लिपस्टिक ऑर्डर करनी है तो उसका कोड जरूर नोट करके रखें, क्योंकि ऑनलाइन कलर के शेड को परफेक्टली समझना मुश्किल है।
एक्पायरी डेट देखना न भूलें
लिपस्टिक की एक्सपायरी डेट जरूर देखें। ऑर्डर के दौरान ही प्रोडक्ट की डीटेल्स अलग से लिखी होती हैं, जहां आप उसके एक्सपायर होने की डेट देख सकती हैं। आपकी एक लिपस्टिक जनरली कितने दिनों तक चलती है इसके आधार पर एक्पायरी डेट का आंकलन करें।
साइज पर दें ध्यान
जी हां, लिपस्टिक के साइज पर भी ध्यान दें। आमतौर पर ब्रैंड्स वाली लिपस्टिक में उसका वजन लिखा होता है जिससे यह अंदाजा लगाना आसान है कि वह कितनी बड़ी होगी। कहीं सिर्फ फोटो के फेर में रह गईं तो ऐसा न हो कि उम्मीद हो 4 सेंटिमीटर लंबी लिपस्टिक की और असल में आए दो सेंटिमीटर की।
रिव्यू जरूर पढ़ें
लिपस्टिक सिलेक्ट कर ली, उसका रेट देख लिया, उसकी एक्सपायरी डेट देख ली तो उसका रिव्यू भी जरूर पढ़ लें। रिव्यू में आपको प्रोडक्ट की क्वॉलिटी के साथ ही डिलीवरी स्टैंडर्ड आदि के बारे में भी जानकारी मिल जाएगी। यह आपको नकली प्रोडक्ट्स लेने की आशंका से भी बचाएगा।
ऑरिजनल वेबसाइट से ऑर्डर करना है बेस्ट
वैसे नकली प्रोडक्ट से बचना है तो बेस्ट है कि आप ऑरिजनल वेबसाइट से लिपस्टिक खरीदें। माना कि यहां पर डिस्काउंट का चांस कम होगा लेकिन कम से कम आपको नकली सामान तो नहीं ही मिलेगा।
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *