Dharmendra Yadav की शिकायत पर स्वामी प्रसाद मौर्य के यहां छापा

बदायूं। सपा प्रत्याशी Dharmendra Yadav ने चुनाव आयोग से शिकायत की थी कि स्वामी प्रसाद मौर्य बदायूं में रहकर चुनाव को प्रभावित करने की कोशिश कर रहे हैं और उनके आवास पर बाहरी लोग एकत्रित हैं ।

इसी शिकायत के आधार पर आयोग की टीम ने छापेमारी की । Dharmendra Yadav  का आरोप है कि शहर की आवास विकास कॉलोनी के मकान नंबर 304 में कैबिनेट मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य रुके हैं। वहीं से चुनाव प्रभावित कर रहे हैं।

आरोपों के बाद पुलिस प्रशासन में हड़कंप मच गया। आनन-फानन में जिला निर्वाचन अधिकारी दिनेश कुमार सिंह ने मकान की तलाशी के आदेश दिए। साथ ही आदेश दिया कि अगर स्वामी प्रसाद मौर्य मिले तो तुरंत गिरफ्तार कर लिया जाए। आदेश के बाद तुरंत बाद मकान में पुलिस ने तलाशी ली। लेकिन वहां कोई नहीं मिला।

उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार में कैबिनेट मंत्री हैं स्वामी प्रसाद मौर्य जिनके बदायूं स्थित आवास पर मंगलवार को छापेमारी हुई।

जिला निर्वाचन अधिकारी एवं डीएम दिनेश कुमार सिंह को सूचना मिली थी कि जिले के प्रभारी मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य इस समय बदायूं स्थित अस्थाई आवास पर हैं।

इसकी सूचना पर सीओ सिटी राघवेंद्र सिंह राठौर एवं सिटी मजिस्ट्रेट ने संयुक्त रूप से पुलिस बल के साथ छापामारी की, लेकिन स्वामी प्रसाद मौर्य अपने आवास पर नहीं मिले। इसके अलावा सीओ सिटी और सिटी मजिस्ट्रेट ने शहर के कई होटलों में छापामारी की जिससे अफरातफरी का माहौल रहा।

अवस्थी ने बताया कि छापेमारी जिलाधिकारी दिनेश कुमार सिंह के निर्देश पर की गयी। स्वामी प्रसाद मौर्य की बेटी संघमित्रा मौर्य बदायूं लोकसभा सीट से भाजपा प्रत्याशी हैं।अवस्थी के अनुसार, छापेमारी के दौरान स्वामी प्रसाद मौर्य नहीं मिले। वह किराये के मकान में रहते हैं और छापे के दौरान वहां मकान मालिक के परिवार के अतिरिक्त कोई अन्य नहीं मिला ।

-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »