उमर अब्दुल्ला ने लिखा, प्लीज इस tweet को भविष्य के लिए सुरक्षित कर लीजिए

नई दिल्ली। कर्नाटक चुनाव में हार के बाद कांग्रेस की ओर से ईवीएम पर सवाल उठाए जाने को लेकर उमर अब्दुल्ला ने इशारों-इशारों में तीखा कटाक्ष किया है।

 

नेशनल कॉन्फ्रेंस के नेता ने tweet किया, ‘प्लीज इस tweet को भविष्य के लिए सुरक्षित कर लीजिए। यदि मैं जीता तो यह मेरे असर और कड़ी मेहनत का नतीजा होगा। यदि मैं हार गया तो पूरी जिम्मेदारी इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीनों की होगी।’

यही नहीं, इस संबंध में बीजेपी नेता सुब्रमण्यन स्वामी से सवाल पूछा गया तो वह बिना कोई जवाब दिए, जोर-जोर से हंसने लगे।

बता दें कि रुझानों में कांग्रेस के पिछड़ने के बाद कांग्रेस के सीनियर लीडर मोहन प्रकाश ने कहा था, ‘मैं पहले दिन से ही कह रहा हूं कि देश में कोई भी राजनीतिक दल नहीं है, जिसने ईवीएम पर सवाल नहीं उठाए हैं। यहां तक कि बीजेपी खुद पिछले दिनों में इस पर सवाल खड़े कर चुकी है। अब जबकि सभी दल ईवीएम पर सवाल उठा रहे हैं तो फिर बीजेपी को बैलट पेपर के जरिए चुनाव कराने में क्या परेशानी है?’ यही नहीं कांग्रेस महासचिव गुलाम नबी आजाद ने तो वोटों की गिनती से पहले ही बीजेपी पर अटैक करते हुए कहा था कि यदि कोई कहता है कि वह इतनी सीटें जीतेगा तो ऐसी बात वही कह सकता है, जिसने ईवीएम सेट कर रखी हों।
अब्दुल्ला ने कर्नाटक को बताया ‘विश्वासघाती’
पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने मंगलवार को कर्नाटक विधानसभा चुनावों की मतगणना के रुझानों में बीजेपी को बहुमत के करीब पहुंचते देख इन अप्रत्याशित नतीजों पर हैरानी जताई। उमर ने tweet कर कहा, ‘ए तू, कर्नाटक?’ (कर्नाटक, तुम भी?)। यह लैटिन भाषा का वाक्य है, जिसे किसी व्यक्ति, खासतौर पर दोस्त द्वारा मिले अप्रत्याशित विश्वासघात को इंगित करने के लिए इस्तेमाल किया जाता है।
-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »