मरहम: गरीबों के दाह संस्कार को 5000 रुपये देगी उप्र सरकार

लखनऊ। गरीबी के कारण किसी परिवार में दाह संस्कार करने के लिए धनराशि की व्यवस्था ना होने पर तत्काल संबंधित ग्राम पंचायत परिवार को 5000 रुपये की सहायता उपलब्ध करवाएगी। यदि परिवार में कोई भी सदस्य नहीं है जो अंतिम संस्कार कर सके तो आर्थिक सहायता के साथ ही ग्राम पंचायत इसकी व्यवस्था भी करेगा।

इस तरह अब रुपये के अभाव में किसी गरीब को अपनों का दाह संस्कार करने में दिक्कत नहीं होगी। ग्रामीण क्षेत्रों में अत्यधिक निर्धन और निराश्रित परिवारों में भुखमरी की दशा, बीमारी एवं मृत्यु होने पर राज्य वित्त आयोग से प्राप्त धनराशि से आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी।

इस योजना के लिए परिवारों का चयन ग्राम पंचायतों द्वारा किया जाएगा। जब तक पंचायतों का गठन नहीं हो जाता, इस सहायता के लिए सचिव और एडीओ पंचायत के पास आवेदन किया जा सकता है।

भरण पोषण के लिए मिलेंगे 1000 रुपये
ग्रामीण क्षेत्रों में अत्यधिक निर्धन और निराश्रित परिवारों में भुखमरी की दशा पर परिवार को तत्काल ग्राम पंचायत द्वारा 1000 रुपये की सहायता उपलब्ध कराई जाएगी। इसके साथ ही पात्रता अनुसार राशन कार्ड न होने पर उसे बनवाने की व्यवस्था भी की जाएगी ताकि भविष्य में भरण पोषण के लिए उन्हें राशन उपलब्ध हो सके।

2000 रुपये उपचार के लिए मिलेंगे
बीमारी की स्थिति में यदि उस परिवार के पास आयुष्मान भारत अथवा जन आरोग्य योजनाओं का कार्ड नहीं है तो उन्हें राज्य वित्त आयोग से ही तत्काल 2000 रुपये की सहायता उपलब्ध कराई जाएगी। इसके बाद आयुष्मान भारत अथवा जन आरोग्य कार्ड भी बनवा कर दिए जाएंगे।

डीपीआरओ हिमांशु शेखर ठाकुर ने कहा कि निर्धन व जरूरतमंदों की आर्थिक मदद के लिए शासन से गाइडलाइन जारी की गई है। ग्राम पंचायतों में अभी ग्राम प्रधान नहीं है, इसलिए ग्रामीण योजना अंतर्गत ग्राम सचिव को आवेदन कर सकते हैं। नियमानुसार उनके आवेदन पर विचार कर धनराशि लाभार्थी के खाते में उपलब्ध कराई जाएगी।
– एजेंसी

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *