अब अंग्रेजी अख़बार की ख़बर में लपेटकर रफ़ाल लाए राहुल गांधी

नई दिल्‍ली। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने एक बार फिर रफ़ाल डील लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा है.
उन्होंने हिंदू अख़बार में छपी एक ख़बर के हवाले से कहा, “एक साल से कह रहा हूं कि प्रधानमंत्री रफ़ाल डील से सीधे जुड़े हुए हैं.”
राहुल गांधी ने ये भी कहा कि सरकार राबर्ट वाड्रा या पी चिदंबरम या जिसके ख़िलाफ़ जो भी जांच करानी है, कराएं लेकिन रफ़ाल डील पर हमारे सवालों के जवाब भी तो दें.
उन्होंने कहा, युवाओं, सेना के जवानों से बात करना चाहता हूं. प्रधानमंत्री ने स्वयं वायुसेना के 30 हज़ार करोड़ रुपये चोरी करके अपने दोस्त अनिल अंबानी को दिए हैं.
उन्होंने हिंदू अख़बार में लिखी चिट्ठी का हवाला देते हुए कहा कि रक्षा मंत्रालय ने कहा कि पीएम मोदी ने सामानंतर डील की है.
राहुल गांधी ने कहा, “पहले रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने झूठ बोला, फिर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने झूठ बोला.” उन्होंने ये भी कहा सुप्रीम कोर्ट से भी सरकार ने झूठ बोला है.
राहुल गांधी ने कहा कि पहले फ्रांस के पूर्व राष्ट्रपति फ्रांस्वा ओलांद जी कह चुके हैं कि मोदी जी ने कहा था कि सौदा अनिल अंबानी को देना है, एचएएल को परे हटाना है. अब डिफेंस मिनिस्ट्री ने भी साबित कर दिया है.
राहुल ने ये भी कहा, “साबित हुआ कि चौकीदार चोर है. उन्हें इसके सिवा कोई दूसरा शब्द नहीं मिल रहा है कि प्रधानमंत्री चोर है.”
क्या छपा है हिंदू अख़बार में
हिंदू अख़बार के पहले पन्ने पर पत्रकार एन. राम की एक रिपोर्ट छपी है, इस रिपोर्ट में 24 नवंबर 2015 रक्षा मंत्रालय का कथित इंटरनल नोट भी छपा है जिसमें कहा गया है कि रक्षा मंत्रालय और उसके सौदे से जुड़ी टीम से अलग दख़ल पीएमओ ने दिया था. इस नोट में ये भी कहा गया है कि पीएमओ के दख़ल देने इस डील में भारत की स्थिति कमजोर हो रही है.
इससे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को लोकसभा में अपने संबोधन कहा था, “रफ़ाल पर एक-एक आरोप का जवाब निर्मला सीतारमण जी ने दिया है, सुप्रीम कोर्ट ने भी इसे सही माना. कांग्रेस नहीं चहती कि देश की वायु सेना मजबूत हो. आप किसके लिए रफाल सौदा कैंसिल करना चाहते हैं?”
उन्होंने ये भी कहा, “इतिहास गवाह है कि यूपीए सरकार रक्षा सौदों में दलाल के बिना काम भी नहीं कर सकती. 55 साल में एक भी रक्षा सौदा बिना दलाल हुआ ही नहीं. जब पारदर्शिता से देश की वायु सेना को मजबूत करने का काम हो रहा है तो ये लोग बौखला जाते हैं.”
-BBC

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »