अब राजस्थान क्रिकेट संघ ने भी हटाईं Pakistani cricketers की तस्वीरें

क्रिकेट क्लब ऑफ इंडिया, पंजाब क्रिकेट संघ के बाद RCA ने भी Pakistani cricketers की तस्वीरें हटाईं 

जयपुर। Pulwama Attack के बाद देश के राज्‍य क्रिकेट संघों में भी गुस्‍सा है जिसकी बानगी मुंबई, चंडीगढ़ के बाद अब राजस्थान क्रिकेट संघ में भी देखने को मिली। राजस्थान क्रिकेट संघ ने भी Pakistani cricketers की तस्वीरें अपने हेडक्‍वार्टर्स से हटा ली हैं।

सीआरपीएफ के काफिले पर हुए आतंकवादी हमले के शहीदों के परिवारों के साथ एकजुटता दिखाते हुए राज्य क्रिकेट एसोसिएशनों ने पाकिस्तानी क्रिकेटरों की तस्वीरों को हटाना शुरू कर दिया है। अब तक तीन संघ हटा चुके हैं।

क्रिकेट क्लब ऑफ इंडिया और पंजाब क्रिकेट संघ के बाद राजस्थान क्रिकेट असोसिएशन ने भी Pakistani cricketers की तस्वीरें अपनी गैलरी से हटा ली हैं। न्यूज एजेंसी एएनआई के अनुसार, आरसीए ने सवाई मान सिंह क्रिकेट स्टेडियम की गैलरी में लगीं पाकिस्तानी क्रिकेटरों की तस्वीरों को हटा दिया है। बता दें कि पुलवामा में सीआरपीएफ के काफिले पर हुए आतंकवादी हमले के शहीदों के परिवारों के साथ एकजुटता दिखाते हुए राज्य असोसिएशनों ने यह फैसला किया है।

इससे पहले पंजाब क्रिकेट संघ (PCA) ने मोहाली क्रिकेट स्टेडियम के अंदर लगीं Pakistani cricketers की तस्वीरों को रविवार को हटा दिया था।

पीसीए के कोषाध्यक्ष अजय त्यागी ने इस बारे में बताया था कि यह फैसला संघ के पदाधिकारियों की बैठक में लिया गया। त्यागी ने कहा, ‘एक विनम्र कदम के तहत, पीसीए ने पुलवामा हमले के शहीदों के साथ एकजुटता दिखाने का फैसला किया। इस जघन्य हमले के बाद देश में काफी गुस्से का माहौल है और पीसीए भी उससे अलग नहीं है।’

उन्होंने कहा कि मोहाली स्टेडियम के विभिन्न जगहों पर पाकिस्तान क्रिकेटरों की लगभग 15 तस्वीरें लगी थी। त्यागी ने कहा था कि जिन क्रिकेटरों की तस्वीरों को हटाया गया है। उसमें पाकिस्तान के मौजूदा प्रधानमंत्री इमरान खान भी शामिल हैं। उनके अलावा अफरीदी, जावेद मियादाद और वसीम अकरम शामिल हैं।

इससे पहले शनिवार को मुंबई स्थित क्रिकेट क्लब ऑफ इंडिया ने भी इस आतंकवादी हमले का अनूठा विरोध जताते हुए पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान का पोस्टर ढक दिया। जम्मू कश्मीर के पुलवामा में गुरुवार को हुए आतंकवादी हमले में सीआरपीएफ के 40 जवान शहीद हो गए और कई गंभीर रूप से घायल हो गए थे। पाकिस्तान स्थित आतंकवादी संगठन जैश-ए-मुहम्मद ने इसकी जिम्मेदारी ली है।

-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *