अब हरियाणा की भाजपा सरकार का मंच साझा किया प्रणव मुखर्जी ने

गुरुग्राम। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के कार्यक्रम में शामिल होने के बाद अब पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने बीजेपी शासित हरियाणा में मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर के साथ मंच साझा किया है। कुछ महीने पहले आरएसएस (RSS) के कार्यक्रम में प्रणब के जाने से कांग्रेस पार्टी काफी असहज हो गई थी। यहां तक कि प्रणब की बेटी शर्मिष्ठा भी इससे नाखुश थीं। हालांकि पार्टी के कई दिग्गज नेताओं द्वारा न जाने की सलाह के बावजूद प्रणब मुखर्जी संघ के कार्यक्रम में पहुंचे थे और उन्होंने नेशन (देश), नेशनलिज्म (राष्ट्रवाद) और पैट्रियॉटिज्म (देशभक्ति) पर बात की थी।
अब रविवार को पूर्व राष्ट्रपति अपने थिंक-टैंक प्रणब मुखर्जी फाउंडेशन के कई कार्यक्रमों को लॉन्च करने के लिए गुरुग्राम में मुख्यमंत्री खट्टर के साथ एक मंच पर दिखे। आपको बता दें कि दो दिन पहले खबर आई थी कि मुखर्जी ने इस इवेंट के लिए 15 सीनियर और जूनियर लेवल के आरएसएस कार्यकर्ताओं को भी आमंत्रित किया है। बताया गया था कि आरएसएस के सदस्यों ने उन्हें जमीनी स्तर पर हरसंभव सहयोग देने का आश्वासन भी दिया है।
हालांकि बाद में पूर्व राष्ट्रपति के कार्यालय की ओर से बयान जारी कर साफ कहा गया कि हरियाणा में प्रणब मुखर्जी फाउंडेशन आरएसएस के साथ मिलकर काम नहीं कर रहा है और न ही आगे कोई योजना है। दरअसल, प्रणब मुखर्जी का फाउंडेशन स्मार्टग्राम प्रॉजेक्ट्स के तहत गोद लिए गांवों में कई सुविधाएं मुहैया करा रहा है। इसके तहत ट्रेनिंग और इनोवेशन वेयर हाउसेज लॉन्च करना और पानी के लिए एटीएम स्थापित करना भी शामिल है।
गौरतलब है कि हरियाणा में स्मार्टग्राम प्रॉजेक्ट जुलाई 2016 में शुरू हुआ था, जब प्रणब मुखर्जी ने राष्ट्रपति रहते हुए कई गावों को गोद लिया था। रविवार को उन्होंने हरियाणा सरकार के आमंत्रण पर गुरुग्राम में आयोजित कार्यक्रम में शिरकत की।
-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »