हर महीने हेल्थ प्रमोशन दिवस पर Asha बहुओं को मिलेगी प्रोत्साहन राशि

लखनऊ। Asha बहूयें अब हर माह हेल्थ प्रमोशन दिवस का आयोजन करेंगी, हर माह की अलग-अलग थीम निर्धारित की गयी है, इसके लिए प्रति Asha कार्यकर्त्रियों को प्रति हेल्थ प्रमोशन दिवस प्रति माह की दर से 200 रुपये प्रोत्साहन स्वरूप मिलेंगे।
महानिदेशक, परिवार कल्याण डॉ. नीना गुप्ता ने इस सम्बन्ध में प्रदेश के समस्त मुख्य चिकित्सा अधिकारियों को दिशा-निर्देश जारी किए हैं।
राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन की अनुमोदित वार्षिक कार्ययोजना वर्ष 2018-19 में इसके लिए धन की व्यवस्था की गयी है। महानिदेशक डॉ. नीना गुप्ता के पत्र में हेल्थ प्रमोशन दिवस के लिए हर माह की थीम निर्धारित की गई है।
पहली मासिक गतिविधि खुले में शौच मुक्त (ओडीएफ), दूसरी मासिक गतिविधि स्वच्छता दिवस, तीसरी मासिक गतिविधि हाथ धोना (हैण्ड वाशिंग), चौथी मासिक गतिविधि मातृ स्वास्थ्य दिवस, पांचवीं मासिक गतिविधि किशोर-किशोरी स्वास्थ्य दिवस, छठी मासिक गतिविधि स्वस्थ जीवन शैली प्रोत्साहन दिवस/सातवें माह से पुन: यही गतिविधियां दोहराईं जाएंगी।
हर माह आयोजित होने वाले इन दिवसों के जरिये स्वास्थ्य एवं स्वास्थ्य कारकों जैसे स्वच्छता, पोषण, जल, साफ-सफाई और इनके स्वास्थ्य पर पड़ने वाले प्रभाव के बारे में समुदाय को जागरूक किया जाएगा। इन दिवसों पर आयोजित होने वाली गतिविधियों का उदेश्य ग्राम स्वास्थ्य, स्वच्छता एवं पोषण समिति के सदस्यों और स्वयं सहायता समूहों का सहयोग प्राप्त करना और उन्हें सुदृढ़ करना भी है। इस कार्यक्रम में आशा कार्यकर्त्री खुले में शौच करने से फैलने वाली बीमारियों के बारे में बताने के साथ ही शौचालय के उपयोग के लिए प्रेरित करने का काम करेंगी। स्वच्छता दिवस के अंतर्गत आशा कार्यकर्त्री समुदाय को संवेदीकृत करने का काम करेंगी। हैण्ड वाशिंग के प्रति भी लोगों को जागरूक करेंगी।
मातृ स्वास्थ्य दिवस पर गर्भवती के शीघ्र पंजीकरण और प्रसव पूर्व समस्त जांच समय से कराने पर जोर दिया जाएगा। संस्थागत प्रसव और बच्चे के जन्म के पहले घंटे स्तनपान के फायदे बताने का भी काम आशा कार्यकत्र्री करेंगी।
किशोर-किशोरी दिवस पर किशोरावस्था (10-19 वर्ष) में होने वाले शारीरिक बदलावों के बारे में बताया जाएगा। शासन की ओर से जारी निर्देश की पुष्टि अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. सीबी द्विवेदी ने की है। उन्होंने कहा कि आशा की ओर से ही सामुदायिक स्वास्थ्य सुविधाओं को सुदृढ़ किया जा सकता है। इसके लिए आशा को आर्थिक रूप से प्रोत्साहन प्राप्त होने से स्वास्थ्य सेवाओं की उपलब्धता, पहुंच एवं समुदाय को जागरूक करने में गति आएगी।
– Legend News

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »