अब अमित शाह को भी कोलकाता में कार्यक्रम करने के लिए जगह नहीं मिली

कोलकाता। आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत के बाद अब बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह को भी कोलकाता में कार्यक्रम करने के लिए जगह नहीं मिली। बीजेपी ने आरोप लगाया है कि ममता बनर्जी सरकार ने बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह को कार्यक्रम के लिए जगह देने से इंकार कर दिया। बीजेपी का कहना है कि अमित शाह के कार्यक्रम के लिए पार्टी ने कोलकाता में कई स्थानों के लिए अप्लाई किया था लेकिन जगह पक्की नहीं की गई।
ज्ञातव्य है कि इससे पहले राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के प्रमुख मोहन भागवत के कार्यक्रम के आयोजन के लिए ऑडिटोरियम का परमिशन भी नहीं दी गई थी।
11 से 13 सितंबर के बीच पश्चिम बंगाल के दौरे पर अमित शाह:
ज्ञातव्य है कि अमित शाह 11 सितंबर से 13 सितंबर के बीच पश्चिम बंगाल के दौरे पर रहेंगे। 12 सितंबर को अमित शाह के कार्यक्रम के लिए नेताजी इनडोर स्टेडियम बुक करने के लिए अप्लाई किया था लेकिन वहां कुछ काम चलने की वजह से इजाजत नहीं मिली। वहीं बीजेपी नेता रूपा गांगुली ने पश्चिम बंगाल सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि ममता सरकार हर मुद्दे पर राजनीति कर रही है। उन्होंने कहा कि ममता सरकार ने कांग्रेस और लेफ्ट पर इस तरह की रोक नहीं लगाई है बल्कि बीजेपी पर लगातार रोक लगा रही है।
ञातव्य है कि आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत 3 अक्टूबर को कोलकाता के प्रसिद्ध सरकारी स्वामित्व वाले सभागार महाजति सदन में भाषण देने वाले थे लेकिन अधिकारियों ने इस बुकिंग को रद्द कर दिया। बंगाल के गवर्नर केसरी नाथ त्रिपाठी भी इस कार्यक्रम में शामिल होने वाले थे। आयोजक अब नए ऑडिटोरियम की तलाश में जुटे हैं। मोहन भागवत के भाषण का विषय भारत के राष्ट्रवादी आंदोलन में सिस्टर निवेदिता की भूमिका था।
-एजेंसी