राम का नाम लेने से कतराने वाले आज मंदिरों में माथा टेक रहे हैं: स्‍मृति

भदोही। केंद्रीय मंत्री स्मृति इरानी ने मंगलवार को गोपीगंज में आयोजित बीजेपी की विजय संकल्प सभा में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को जमकर निशाने पर लिया। उन्होंने कहा कि जो लोग वोट बैंक के चक्कर में कल तक राम का नाम लेने से कतराते थे, आज मंदिर-मंदिर मत्था टेक रहे हैं। खुद को रामभक्त दिखाकर वोट हथियाने के लिए जनेऊ तक धारण करके घूम रहे हैं। राहुल के बाद प्रियंका को निशाने पर लेते हुए स्मृति ने कहा कि जो आज तक गंगा की तरफ देखने नहीं आईं, वह मां गंगा का सहारा लेकर वोट मांग रही हैं।
गोपीगंज के गुलाबधर मिश्र इंटर कॉलेज में आयोजित सभा में केंद्रीय मंत्री ने कहा कि किसी ने सोचा भी नहीं था कि कांग्रेस एक दिन शहीदों की शहादत का अपमान करेगी। उन्होंने कहा, ‘आज मैं कांग्रेस और महामिलावट के लोगों से कहना चाहती हूं कि धिक्कार है ऐसी राजनीति पर जो देश का अपमान करे और दुश्मन का साथ दे।’ उन्होंने कहा कि बीजेपी जनता का विकास चाहती है। देश की जनता ने मोदी को फिर से प्रधानमंत्री बनाने का संकल्प ले लिया है।
स्मृति ने कहा, ‘किसने सोचा था कि जब हमारे पुलवामा में हमारे जवानों का खून बहेगा तो कांग्रेस देश के साथ नहीं बल्कि पाकिस्तान के साथ खड़ी हो जाएगी। किसने सोचा था कि राहुल गांधी के गुरु सैम पित्रोदा कहेंगे कि हिंदुस्तान में तो ऐसी घटनाओं में लोग मरते रहते हैं, लेकिन पाकिस्तान को दोष नहीं देना चाहिए।’
केंद्र सरकार की उपलब्धियों को गिनाते हुए स्मृति इरानी ने कहा कि भदोही जिले में 1.75 लाख लाभार्थियों को राशन कार्ड बनवाकर खाद्यान्न की सुविधा देने का मौका बीजेपी को मिला। इसके साथ ही 38 हजार लोगों को वृद्धावस्था पेंशन समेत तमाम योजनाओं का लाभ सिर्फ बीजेपी ने दिया। जनसभा में बीजेपी किसान मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष और सांसद वीरेंद्र सिंह, बीजेपी विधायक दीनानाथ सिंह भास्कर सहित कई पदाधिकारी मौजूद थे।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »