खास चीजों के परहेज से नहीं बल्‍कि उनके सेवन से रुकती है बच्‍चों में एलर्जी

पहले महिलाओं को प्रेग्नेंसी और स्तनपान के दौरान एलर्जी फैलाने वाली खाने की चीजें जैसे पीनट्स आदि खाने से परहेज करने की सलाह दी जाती थी। उनको यह भी सलाह दिया जाता था कि अपने बच्चे को जिंदगी के पहले कुछ सालों में ये चीजें न खाने दें। ऐसा माना जाता था कि इन चीजों से बच्चों में एलर्जी फैल सकती है और इन चीजों से परहेज उनको एलर्जी से बचा सकती है। लेकिन बाद के दिनों में हमें पता चला कि यह बातें गलत थीं।
क्या कहती है स्टडी
पिछले साल करीब 6000 नवजातों पर एक स्टडी की गई। स्टडी से पता चला कि बच्चे की जिंदगी के पहले चार महीने में खासतौर पर स्तनपान से बच्चों में हे फीवर होने की संभावना कम हो जाती है। इसके अलावा यह भी सामने आया कि चीजों से परहेज की बजाए शुरू में उसका सेवन करने से एलर्जी रोधी ताकत बच्चे में पैदा होती है। जिन बच्चों को चार महीने और 11 महीने की उम्र में पीनट्स दिया गया, उनके अंदर पांच साल की उम्र तक पीनट एलर्जी होने का चांस 81 फीसदी कम हो गया। इसी तरह से चार से छह महीने की उम्र में बच्चों को अंडा देने से एग अलर्जी की संभावना बहुत कम हो गई। कुल मिलाकर यह निष्कर्ष निकला की परहेज नहीं बल्कि सेवन की मदद से ही एलर्जी को रोका जा सकता है।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »