उत्तर कोरिया: किम जोंग उन का स्‍वास्‍थ एकबार फिर चर्चा में

प्योंगयांग। उत्तर कोरिया के तानाशाह किम जोंग उन का स्वास्थ्य एक बार फिर चर्चा में है। दावा किया गया है कि किम जोंग कोमा में हैं। यहां तक कि एक एक्सपर्ट ने यह भी दावा किया है कि किम जोंग की मौत हो गई है। इसके साथ ही इस बात की संभावना भी जताई गई है कि अब देश की कमान उनकी बहन किम यो जोंग के हाथों में सौंपी जा सकती है। अगर ऐसा हुआ तो यो जोंग दुनिया की पहली महिला तानाशाह होंगी। दरअसल, कुछ दिन पहले ही किम जोंग ने बहन को प्रमोशन दिया था जिसके बाद वह और भी ज्यादा शक्तिशाली हो गई हैं। उन्हें लेकर पहले से यह कहा जाता है कि वह तानाशाह से भी ज्यादा खतरनाक और क्रूर हैं।
‘यो जोंग का आदेश, सम्मान और डर’
जानकारी के मुताबिक एक्सपर्ट्स इस बात की चेतावनी देते हैं कि किम यो जोंग बेहद क्रूर हैं। माना जाता है कि यो जोंग इस बात का फैसला करती थीं कि जोंग उन तक कौन से मुद्दे ले जाए जाने के लिए अहम हैं। कहा जाता है कि यो जोंग पार्टी के लोगों को उन्हें सम्मान और डर से पेश आने के लिए कहती थीं। जब उत्‍तर कोरिया के लाइव फायर मिलिट्री अभ्‍यास का दक्षिण कोरिया ने विरोध किया तो किम यो जोंग ने कहा था कि ‘डरे हुए कुत्‍ते भौंक रहे हैं।’
‘दक्षिण कोरिया की धुर विरोधी’
उत्तर कोरिया के बारे में जानकारी रखने वाले कई विशेषज्ञों ने किम यो जोंग को दक्षिण कोरिया का धुर विरोधी बताया है। इतना ही नहीं कहा तो यह भी जा रहा है कि उन्हीं के आदेश पर किम की सेना ने सीमा पर मौजूद सहयोग स्थलों को बम से उड़ा दिया था। किम यो-जोंग पहली बार 2018 में चर्चा में आईं जब उन्होंने दक्षिण कोरिया का दौरा किया। वे किम वंश की पहली ऐसी सदस्य थीं जिन्होंने पहली बार दक्षिण कोरिया की धरती पर कदम रखा था। उन्होंने इस दौरे के बाद दक्षिण कोरिया को लेकर काफी आक्रामक तेवर दिखाए थे।
‘भाई की सबसे वफादार’
उत्‍तर कोरियाई मामलों के जानकार लिओनिड पेट्रोव कहते हैं, ‘किम यो जोंग की अपने भाई तक सीधी पहुंच है। यही नहीं, उत्‍तर कोरियाई शासक पर उनकी बहन का गहरा प्रभाव है। किम यो जोंग को अपने भाई के बारे में सब पता है। किम यो जोंग अपने भाई की सबसे वफादार हैं और विदेशियों और दक्षिण कोरिया से डील करती हैं। किम यो जोंग अपने भाई की सकारात्‍मक छवि दुनिया में बनाने का काम करती हैं।’
किम जोंग उन कोमा में या हुई मौत?
कुछ दिन पहले दक्षिण कोरिया की खुफिया एजेंसी ने बताया था कि 32 साल की किम यो जोंग को अमेरिका और दक्षिण कोरिया से जुड़े मामलों को देखने के लिए उत्‍तर कोरिया का प्रभारी बनाया गया है। इस तरह से वह अब देश में अघोषित रूप से दूसरे नंबर की नेता हो गईं। इसके बाद दक्षिण कोरिया के पूर्व राष्ट्रपति किम डे-जंग के ऑफिसर रह चुके चान्ग सॉन्ग-मिन ने दावा किया कि किम जोंग उन कोमा में हैं। पत्रकार रॉय कैली ने यहां तक कहा कि उन्हें लगता है कि किम की मौत हो चुकी है।
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *