बेस्ट ऐक्टर साबित करने के लिए हॉलिवुड फिल्मों में काम करने की जरूरत नहीं: नवाजुद्दीन

मुंबई। बॉलिवुड में अपने अभिनय से अपनी एक अलग पहचान बनाने वाले अभिनेता नवाजुद्दीन सिद्दीकी कहते हैं कि बॉलिवुड के कलाकारों को अपने आपको बेस्ट ऐक्टर या स्टार साबित करने के लिए हॉलिवुड की फिल्मों में काम करने की जरूरत नहीं है।
नवाज इन दिनों अपनी रिलीज़ के लिए तैयार फिल्म ‘मंटो’ के प्रमोशन में जुटे हैं। इस दौरान नवाज ने हॉलिवुड में काम करने से जुड़े कई सवालों पर खुल कर बात की।
उन्‍होंने बताया, पिछले दिनों मैंने बहुत सारे अंतर्राष्ट्रीय प्रॉजेक्ट में काम करने से मना कर दिया। मैं पूछता हूं हमारी फिल्मों की तुलना और हमारा स्टैंडर्ड हॉलिवुड से ही क्यों नापा जाता है?
यह बात मेरे समझ में नहीं आती कि हॉलिवुड की फिल्म करने के बाद ही बेस्ट होने ठप्पा लगेगा। क्या हम लोग बेस्ट काम नहीं करते? हम आज भी उसी मानसिकता में जी रहे हैं कि कोई एक पावरफुल देश हैं, वहां जो भी होता है बेस्ट होता है। क्या हम बेस्ट काम नहीं करते या कर ही नहीं सकते। यह बात बच्चों-बच्चों के दिमाग में है। इसकी वजह यही है कि 200 साल अंग्रेजों ने हम पर राज किया है।
वहां (हॉलिवुड) पर भी कूड़ा बन रहा है। वहां भी साल में 2 फिल्में ही अच्छी बनती हैं और हमारे यहां साल में जो 2 सबसे अच्छी फिल्में बनती हैं, उनको भी लोग अच्छा नहीं कहते हैं क्योंकि वह अच्छी फिल्में बॉक्स ऑफिस में सफल नहीं होती हैं। अब इन सबकी वजह दर्शक हैं क्योंकि दर्शकों को बकवास फिल्में देखने की आदत है। अगर किसी फिल्म में बहुत सारा पैसा प्रमोशन में खर्च कर दें तो अच्छा बोलने लगते हैं।
हम हॉलिवुड में बन रहे कूड़े को जमकर देखते हैं और उसकी खूब सराहना भी करते हैं। आप देखिए हमारे बॉलिवुड के स्टार्स का क्रेज इतना ज्यादा है कि हॉलिवुड के बड़े-बड़े स्टार्स का भी नहीं होता है। कहने का मतलब है हम अपनी चीजों का सम्मान नहीं करते हैं। हम बस यही सोचते हैं कि हॉलिवुड का ठप्पा लगने से ही हम बड़े और अच्छे ऐक्टर बनेंगे।
हमें अपने काम का सर्टिफिकेट हॉलिवुड में काम करके लेना पड़ता है। यह विचारधारा बदलने में बहुत वक्त लगेगा। 100 साल भी लग सकते हैं। यह सब मानसिकता से सम्बंधित समस्या है। मैं अभी 2 हॉलिवुड की फिल्म करलूं तो बॉलिवुड का बेस्ट ऐक्टर बन जाऊंगा और हर दिन सुर्खियों में रहूंगा। हमारे यहां इसने अच्छे-अच्छे ऐक्टर हैं कभी उनकी तारीफ नहीं होती है, उनका नाम नहीं लिया जाता है। मैं बहुत सारे ऐसे ऐक्टर को जानता हूं जो बेहतरीन अभिनय करते हैं, थिअटर में काम कर रहे हैं, लेकिन फिल्मों में उनको कोई काम ही नहीं दे रहा है।
नवाज की ‘मंटो’ 21 सितंबर को देशभर के सिनेमाघरों में एक साथ रिलीज़ होगी। फिल्म का निर्देशन नंदिता दास ने किया है। नवाज के अलावा फिल्म में जावेद अख्तर, रणवीर शौरी, ऋषि कपूर, दिव्या दत्ता, इला अरुण, परेश रावल और गुरुदास मान ने महत्वपूर्ण भूमिकाएं निभाई हैं। ‘मंटो’ के बाद नवाज जल्द ही बालासाहब ठाकरे की बायॉपिक में नजर आएंगे।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »