एलओसी पर आतंकियों के Launchpads पर गतिविधि शून्‍य, पाक ने हटाए सभी आतंकी

नई दिल्‍ली। पाकिस्‍तान ने नियंत्रण रेखा (एलओसी) पर मौजूद आतंकियों के Launchpads को हटाना शुरू कर दिया है। आतंकियों को Launchpads के पास मौजूद सेना के कैंप में रखा जाएगा।

मोदी सरकार का कहना है कि सैन्य बलों को सीआरपीएफ के काफिले पर हमला करने वाले आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के खिलाफ कार्रवाई करने की पूरी छूट है। इसी के मद्देनजर पाकिस्तानी सेना ने कुछ पूर्व फैसले लिए हैं। इस समय दोनों तरफ की सीमाओं पर तनाव है। कश्मीर के उच्च खुफिया सूत्रों ने बताया कि फ्रंटियर पर किसी तरह की आर्टिलरी मूवमेंट या तैनाती नहीं की जा रही है।

सूत्रों ने कहा, ‘आज हमारे पास एलओसी पर वहां हवाई हमला करने का कोई लक्ष्य नहीं बचा है। जहां आतंकी तैयार होते थे और उन्हें घुसपैठ करने के लिए भेजा जाता था।’ इससे सेना के पास एक ही विकल्प बचता है कि वह है पाकिस्तानी सेना के ठिकानों को निशाना बनाना। ऐसा करने से तकरार की संभावनाएं और बढ़ सकती है।

खुफिया सूत्रों के अनुसार पाकिस्तान आतंकी हमलों के जवाब में कार्रवाई होने की संभावनाओं को मान रहा है। शायद इसी वजह से उसने इस साल अपनी विंटर पोस्ट्स को खाली नहीं कराया है। सूत्रों ने बताया, ‘लगभग 50-60 विंटर पोस्ट जिन्हें हर साल खाली करा लिया जाता था वहां फिलहाल पाकिस्तानी सैनिक तैनात हैं जिनमें अतिरिक्त आतंकी Launchpads हैं। फिलहाल हमें उनकी संख्या नहीं मालूम है।’

कश्मीर के इंटेलिजेंस अधिकारी ने कहा, जैश-ए-मोहम्मद के आतंकी दक्षिण कश्मीर में तीन नेताओं- उमेर, इस्माइल और अब्दुल राशिद गाजी के साथ छुपे हुए हैं। कश्मीर में कम से कम 60 जैश आतंकी सक्रिय हैं। जिसमें से 35 पाकिस्तान के हैं और बाकी स्थानीय हैं। उसकी गैर-मौजूदगी में हिजबुल मुजाहिद्दीन के कमांडर सैयद सलाहूद्दीन ने यूजेसी का नेतृत्व किया।
-एजेंसी

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *