केरल के बाद अब कर्नाटक पहुंचा Nipah वायरस

नई दिल्‍ली। Nipah वायरस केरल को क्रॉस करके अब कर्नाटक पहुंच गया है, मेंगलुरु में 2 संदिग्ध मरीज इलाज के लिए सामने आए हैं, इसके बाद प्रशासन ने कोझिकोड न जाने की सलाह दी है।

इन दिनों में पूरे देश में Nipah वायरस की चर्चा है। एक ऐसा वायरस जो 48 घंटे में मरीज को कोमा में पहुंचा सकता है। सुअर और चमगादड़ से फैलने वाले इस वायरस से पीड़ित व्यक्ति का कोई इलाज नहीं है। सरकार भी निपाह को लेकर पूरी तरह सतर्कता बरत रही है। कई राज्यों में अलर्ट जारी कर दिया गया है। हालांकि फिर भी ये वायरस केरल की सीमा को पार कर कर्नाटक पहुंच गया है।

कर्नाटक में दो संदिग्ध
एक स्वास्थ्य अधिकारी ने बताया है कि कर्नाटक में 2 संदिग्ध मरीजों का इलाज चल रहा है। केरल में मेडिकल स्टाफ पूरी कोशिश कर रहा है कि इसे फैलने से रोका जा सके और लोगों में घबराहट को कम किया जा सके। कर्नाटक के मेंगलुरु में दो संदिग्ध केस सामने आए हैं। ये दोनों ही मरीज केरल से हैं, उनमें से एक ने हाल में Nipah पीड़ित मरीज से मुलाकात की थी।

केरल से कर्नाटक के मंगलौर पहुंचे 75 वर्षीय बुजुर्ग और 20 वर्षीय युवती में बुखार के बाद वायरस का प्रभाव दिखने के बाद प्रशासन सतर्क हो गया है। दोनों के बेड अलग करके उनके इलाज में बेहद सावधानी बरती जा रही है। केरल से आने वाले अन्य लोगों पर भी नजर रखी जा रही है।

केरल में 24 घंटे में कोई संक्रमण नहीं
केरल की स्वास्थ्य मंत्री ने बताया कि 24 घंटों में निपाह वायरस का कोई संदिग्ध केस सामने नहीं आया है। इस बीच, खबर है कि तमिलनाडु ने भी केरल से आए लोगों की जांच शुरू कर दी है, जबकि गोवा ने लोगों के लिए चेतावनी जारी की है। केरल सरकार ने लोगों से कोझिकोड, मलप्पुरम, वयनाड और कन्नूर जिलों की यात्रा से बचने को कहा है।

चार जिलों में न जाने की सलाह
इसी कड़ी में गुरुवार को केरल के स्वास्थ्य और परिवार कल्याण विभाग की ओर से एक और कदम उठाया गया। विभाग ने केरल में आने वाले लोगों के लिए हेल्थ एडवाइजरी जारी करते हुए चार जिलों में न जाने की सलाह दी है। ये वही जिले हैं, जहां से Nipah वायरस फैला था। इनमें कोझिकोड और उसके आसपास के जिले मल्लपुरम, वायनाड और कन्नूर शामिल हैं। गौरतलब है कि सुअर और चमगादड़ से फैलने वाले इस वायरस से पीड़ित व्यक्ति का कोई इलाज नहीं है। विश्व स्वास्थ्य संगठन के मुताबिक Nipah से पीड़ित लोगों की मौत का प्रतिशत 70 तक है।
-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »